Advertisment

Ram Lala Pran Pratishtha: 22 जनवरी को अपने आसपास के मंदिरों को सजाएं : चंपत राय

Ram Lala Pran Pratishtha: 22 जनवरी को अयोध्या में रामलला की प्राण प्रतिष्ठा होने जा रही है। इसको लेकर आज यानी सोमवार को श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के महासचिव चंपत राय ने जानकारी दी।  

author-image
Deepak Kumar
New Update
mmn

22 जनवरी को अपने आसपास के मंदिरों को सजाएं : चंपत राय

Listen to this article
0.75x 1x 1.5x
00:00 / 00:00

ब्यूरोः 22 जनवरी को अयोध्या में रामलला की प्राण प्रतिष्ठा होने जा रही है। इसको लेकर तैयारियां जोर-शोर से चल रही हैं। कार्यक्रम में अरुण योगीराज की बनाई गई रामलला की नई मूर्ति की प्राण प्रतिष्ठा की जाएगी। इसको लेकर आज यानी सोमवार को श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के महासचिव चंपत राय ने जानकारी दी।  

Advertisment

चंपत राय ने कहा किनए राम मंदिर के गर्भगृह में रामलला की वर्तमान मूर्ति भी रखी जाएगी। प्राण प्रतिष्ठा की पूजन विधि मंगलवार से शुरू हो जाएगी और ये विधि 21 जनवरी तक चलेगी। इसके बाद राम मंदिर में भगवान के बाल रूप को स्थापित किया जाएगा। चंपत राय ने कहा कि रामलला को गुरुवार यानी 18 जनवरी को गर्भगृह में स्थापित किया जाएगा।

Advertisment

मंदिरों को सजाने की अपील

साथ में चंपत राय ने कहा कि गर्भगृह में प्राण प्रतिष्ठा कार्यक्रम संपन्न होने के बाद सभी लोग बारी-बारी से दर्शन करेंगे। वहीं, श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट ने सभी राम भक्तों से 22 जनवरी को अपने आसपास के मंदिरों को सजाने और मंदिर में भजन, पूजा, कीर्तन और आरती करने की अपील की है। साथ ही अपील की है कि उससे पहले आसपास के मंदिरों की साफ-सफाई कर संपूर्ण स्वच्छता सुनिश्चित की जाए।

कुल 121 आचार्य कराएंगे अनुष्ठानः महासचिव

श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के महासचिव ने कहा कि कुल 121 आचार्य अनुष्ठान कराएंगे। अनुष्ठान की सभी कार्यवाही की देखरेख, समन्वय, संचालन और निर्देशन गणेश्वर शास्त्री द्रविड़ करेंगे और प्रमुख आचार्य काशी के लक्ष्मीकांत मथुरानाथ दीक्षित होंगे।

Advertisment