Fri, Apr 19, 2024

MLC चुनाव में बीजेपी की जीत, सीएम ने दी बधाई, मायावती ने सपा पर साधा निशाना, बोलीं- सपा की षड्यंत्रकारी नीति नहीं बदली

By  Shagun Kochhar -- May 30th 2023 02:02 PM
MLC चुनाव में बीजेपी की जीत, सीएम ने दी बधाई, मायावती ने सपा पर साधा निशाना, बोलीं- सपा की षड्यंत्रकारी नीति नहीं बदली

MLC चुनाव में बीजेपी की जीत, सीएम ने दी बधाई, मायावती ने सपा पर साधा निशाना, बोलीं- सपा की षड्यंत्रकारी नीति नहीं बदली (Photo Credit: File)

लखनऊ: यूपी में विधान परिषद की दो एमएलसी सीटों पर भाजपा की विजय हुई. बीजेपी के दोनों प्रत्याशियों की जीत के बाद सीएम ने ट्वीट पर जीत की बधाई दी.


सीएम योगी ने ट्वीट कर दोनों नेताओं को बधाई दी. उन्होंने लिखा उत्तर प्रदेश विधान परिषद के सदस्य पद हेतु संपन्न हुए उप-चुनाव में डबल इंजन सरकार के प्रत्याशी श्री पदमसेन चौधरी जी एवं श्री मानवेन्द्र सिंह जी को जीत की हार्दिक बधाई!




बता दें, सोमवार को सुबह 9 बजे शुरू हुई वोटिंग शाम करीब 4 बजे तक चली. मतदान के दौरान कुल 396 वोट पड़े. बीजेपी और सपा दोनों के प्रत्याशी मैदान में थे. वहीं कांग्रेस और बसपा ने वोटिंग प्रक्रिया में हिस्सा नहीं लिया था. बता दें भाजपा प्रत्याशी पद्मसेन चौधरी को 279 वोट मिले वहीं उनके खिलाफ खड़े हुए सपा के रामजतन राजभर को 114 वोट मिले. इसके अलावा दूसरी सीट पर भाजपा के मानवेंद्र को 280 मिले और उनके खिलाफ खड़े हुए सपा के रामकरन निर्मल को 116 वोट मिले.


कैसे हुई सीट खाली?

बता दें उत्तर प्रदेश में दो विधान परिषद की सीट खाली है. एमएलसी की दोनों सीटें उत्तर प्रदेश विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र की हैं. ये सीट बनवारी लाल दोहरे के निधन से खाली हुई. वहीं दूसरी सीट लक्ष्मण आचार्य को सिक्किम का राज्यपाल बनाए जाने से रिक्त हुई.


बीजेपी के पद्मसेन चौधरी भाजपा के बड़े नेता हैं और बहराइच के पूर्व सांसद हैं. वहीं दूसरी ओर मानवेंद्र सिंह यूपी विधान परिषद के कार्यकारी सभापति रहे हैं. ये दो बार के एमएलसी भी रह चुके हैं. 1980 में वह झांसी का भाजपा जिलाध्यक्ष रहे. इसके बाद 1985 में पहली बार भाजपा के टिकट पर विधानसभा का चुनाव लड़े और विधायक बने.


मायावती का सपा पर निशाना

वहीं बसपा सुप्रीमो मायावती ने एमएलसी चुनाव को लेकर सपा को आड़े हाथों लिया. मायावती ने ट्वीट कर लिखा कि यूपी विधान परिषद की दो सीटों के लिए कल हुए उपचुनाव में, हार निश्चित होने के बावजूद, चुनाव में सपा द्वारा दलित व ओबीसी उम्मीदवार को खड़ा करना, हरवाना तथा ज्यादा संख्या बल होने पर इनकी अनदेखी करना यह साबित करता है कि इन वर्गों के प्रति सपा की षड्यंत्रकारी नीति थोड़ी भी नहीं बदली।




वहीं उन्होंने अपने अगली ट्वीट में लिखा सपा व इनकी रही सरकारों के दौरान इनकी ऐसी ही संकीर्ण व घृणित राजनीति से दलितों, अन्य पिछड़ा एवं अक्लियत समाज के लोगों का काफी अहित होता रहा है। इसलिए आगे ऐसे नुकसान से बचने के लिए इन वर्गों के लोगों को हमेशा बहुत ही सावधान रहने की सख़्त ज़रूरत है, बीएसपी की यह अपील।



  • Share

ताजा खबरें

वीडियो