Fri, Apr 19, 2024

हारी हुई 14 सीटों पर जीत के लिए बीजेपी का मेगा प्लान, बूथ लेवल और विचारकों की ग्राउंड रिपोर्ट पर बनेगी चुनावी रणनीति

By  Shagun Kochhar -- June 19th 2023 03:23 PM
हारी हुई 14 सीटों पर जीत के लिए बीजेपी का मेगा प्लान, बूथ लेवल और विचारकों की ग्राउंड रिपोर्ट पर बनेगी चुनावी रणनीति

हारी हुई 14 सीटों पर जीत के लिए बीजेपी का मेगा प्लान, बूथ लेवल और विचारकों की ग्राउंड रिपोर्ट पर बनेगी चुनावी रणनीति (Photo Credit: File)

ब्यूरो: बीजेपी ने 2024 में लोकसभा चुनाव में जीत के लिए अब ‘मेगा प्लान’ पर काम करना शुरू कर दिया है। पार्टी ने पहले फेज में उन 14 सीटों पर फोकस किया है, जो वह 2019 में हार गई थी। इन लोकसभा सीटों पर बीजेपी ने हर विधानसभा में विस्तारक उतार दिए हैं, जो वहां की ग्राउंड रिपोर्ट तैयार कर रहे हैं। वह ग्राउंड रिपोर्ट लेकर सोमवार को बीजेपी मुख्यालय पहुंचे, जिस पर मंथन हो रहा है। इसी रिपोर्ट के आधार पर जीत की रणनीति तैयार होगी। खुद प्रदेश के संगठन महामंत्री धर्मपाल रिपोर्ट को लेकर विस्तारकों से बात कर रहे हैं।


बीजेपी ने 2019 में गठबंधन के साथ यूपी में 80 में से 64 सीटें जीती थीं। इसके बाद हुए उपचुनाव में वह आजमगढ़ और रामपुर भी जीत गई थी। अब सिर्फ रायबरेली, लालगंज, संभल, मुरादाबाद, मैनपुरी, गाजीपुर, घोसी, श्रावस्ती, अमरोहा, बिजनौर, जौनपुर, नगीना, सहारनपुर और अम्बेडकरनगर यानी कुल 14 लोकसभा ही ऐसी बची हैं, जिसे भाजपा जीत नहीं सकी। 


क्या है विस्तारकों की रिपोर्ट में खास?

बीजेपी ने इन सीटों पर पिछले दो साल से काम करना शुरू कर दिया था। पहले सभी सीटों पर एक केंद्रीय मंत्री और एक पदाधिकारी को भेजा गया था। इसके बाद अब पिछले महीने से इन 14 लोकसभा की 84 विधानसभा में विस्तारक भेजे गए हैं। विस्तारक बीजेपी के वह कार्यकर्ता हैं, जो दूसरे जिलों से वहां लगाए गए हैं। वह उसी विधानसभा में रहकर अपनी रिपोर्ट तैयार कर रहे हैं। उनका खास फोकस उन 22 हजार बूथों पर है, जहां बीजेपी को जीत हासिल नहीं हुई थी। 


विस्तारक इन सभी बूथों की रिपोर्ट तैयार कर रहे हैं कि वहां बूथ समिति का गठन हुआ या नहीं? वहां बूथ अध्यक्ष हैं या नहीं?- सूत्र

उन्होंने भाजपा की बूथ स्तर तक सामाजिक, जातीय समीकरण देखने, प्रभावशाली लोगों की सूची बनाने के साथ भाजपा संगठन की गतिविधियों की नियमित जानकारी को भी अपनी रिपोर्ट में दर्ज किया है। इन विस्तारकों ने अपने लोकसभा क्षेत्र में विधानसभा वार सामाजिक समीकरणों की भी रिपोर्ट तैयार कर रहे हैं। क्षेत्र के प्रभावशाली लोगों से मिलकर उनकी सूची तैयार की जा रही है। जातिवार प्रभावशाली लोगों की सूची के साथ, मठ-मंदिरों के पुजारी, मुखिया, ग्राम प्रधान और बिरादरी के अगुवा लोगों की सूची भी विस्तारकों ने अपनी रिपोर्ट में शामिल किया है। रिपोर्ट में यह भी बताया गया है कि इसके साथ ही पिछले चुनावों में किस बूथ पर किस वजह से हार हुई? 


क्या होगा जीत का प्लान?

सूत्रों की मानें तो बीजेपी के संगठन महामंत्री धर्मपाल ने इन सभी विस्तारकों की रिपोर्ट के हिसाब से ‘मेगा प्लान’ बनाने पर काम शुरू कर दिया है। इन विस्तारकों को अब वोटर लिस्ट के हिसाब से वोटर लिस्ट के एक पेज के प्रमुख को जिम्मेदारी देने पर काम दिया जाएगा। वह हर वोटर के घर जाकर बीजेपी के बारे में बताएंगे। इसके अलावा कमजोर 22 हजार बूथों पर बड़े नेताओं, सांसदों, विधायकों और मंत्रियों को भेजने की तैयारी की जा रही है। विस्तारक अपनी विधानसभा की रिपोर्ट के हिसाब से प्रभावशाली लोगों से संपर्क कर उन्हें भी बीजेपी के पाले में लाने की कोशिश करेंगे।

  • Share

ताजा खबरें

वीडियो