Wed, Apr 24, 2024

ममता से मुलाकात के बाद कोलकाता में बोले अखिलेश, 2024 में बीजेपी सत्ता से होगी बेदखल

By  Shivesh jha -- March 18th 2023 07:42 AM
ममता से मुलाकात के बाद कोलकाता में बोले अखिलेश, 2024 में बीजेपी सत्ता से होगी बेदखल

ममता से मुलाकात के बाद कोलकाता में बोले अखिलेश, 2024 में बीजेपी सत्ता से होगी बेदखल (Photo Credit: File)

समाजवादी पार्टी के मुखिया अखिलेश यादव ने शुक्रवार को कोलकाता में कहा कि देश की जनता चाहती है कि 2024 के लोकसभा चुनाव में बीजेपी को सत्ता से बेदखल कर दिया जाए। उन्होंने केंद्रीय एजेंसियों को राजनीतिक बताते हुए विपक्ष के खिलाफ देश में केंद्रीय एजेंसियों का दुरुपयोग करने के लिए केंद्र सरकार को भी फटकार लगाई। 

यादव ने जोर देकर कहा कि मीडिया गैर-भाजपा विपक्षी गठबंधन के बारे में बहस कर सकता है लेकिन पूरा देश भाजपा को सत्ता से बेदखल करना चाहता है। केंद्रीय एजेंसियों- प्रवर्तन निदेशालय, केंद्रीय जांच ब्यूरो और आयकर को राजनीतिक संगठन कहते हुए अखिलेश यादव ने समाजवादी पार्टी के नेताओं सहित विपक्ष के खिलाफ इन विभागों का दुरुपयोग करने के लिए केंद्र की आलोचना की। 

उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश में हमारी पार्टी के अधिकांश नेता विधायक झूठे मुकदमों में जेल में हैं। आप कल्पना नहीं कर सकते हैं कि हमारी पार्टी के नेताओं को जेल में डालने के लिए कितने झूठे मुकदमे दिए जाते हैं। यहां बंगाल में यह थोड़ा कम हो सकता है।

इसी तरह के आरोप तृणमूल कांग्रेस सुप्रीमो ममता बनर्जी ने भाजपा शासित केंद्र सरकार पर लगाए हैं। बनर्जी ने दोहराया है कि केंद्र केंद्रीय एजेंसियों का दुरुपयोग हो रहा है। तृणमूल कांग्रेस सुप्रीमो ने शुक्रवार को कोलकाता में अपने कालीघाट आवास पर समाजवादी पार्टी प्रमुख अखिलेश यादव के साथ बैठक की। 

बताया जा रहा है कि गैर-बीजेपी और गैर-कांग्रेसी क्षेत्रीय दलों को एक साथ लाने की कोशिश की जा रही है। इस बीच पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी 23 मार्च को बीजेडी नेतृत्व के साथ ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक से मुलाकात करेंगी, जो पार्टी कांग्रेस और बीजेपी के साथ समान दूरी रखते हुए समान रुख बनाए हुए है।

अखिलेश यादव ने मुलाकात के बाद कहा कि हमें लोकतंत्र को बचाने के लिए अपना रास्ता बनाना होगा। देश में मुख्य धर्मनिरपेक्ष ताकतों को एक साथ आना चाहिए। कांग्रेस को अपना रास्ता तय करने का अधिकार है। हमारे पास टीआरएस और कई अन्य क्षेत्रीय दल भी हैं।

  • Share

ताजा खबरें

वीडियो