Sat, May 25, 2024

उत्तर प्रदेश के कई शहरों में ATS ने की रेड, कई लोगों को किया गया डिटेन

By  Shagun Kochhar -- May 7th 2023 12:43 PM -- Updated: May 7th 2023 02:41 PM
उत्तर प्रदेश के कई शहरों में ATS ने की रेड, कई लोगों को किया गया डिटेन

उत्तर प्रदेश के कई शहरों में ATS ने की रेड, कई लोगों को किया गया डिटेन (Photo Credit: File)

ब्यूरो: रविवार को जहां लोग छुट्टी के दिन आराम कर रहे थे, वहीं उत्तर प्रदेश एंटी टेरर स्क्वॉड यानी एटीएस ने सुबह-सुबह ही कई शहरों में छापेमारी कर हड़कंप मचा दिया.


उत्तर प्रदेश में एटीएस यानी एंटी टेरर स्क्वॉड ने रविवार सुबह कई शहरों में रेड मारी. एटीएस की ये छापेमारी पीएफआई सदस्यों की तलाश में की गई. 


इन शहरों में एटीएस ने की छापेमारी

एटीएस ने राजधानी लखनऊ के साथ साथ मेरठ, मुरादाबाद, वाराणसी, गाजियाबाद और आजमगढ़ के साथ साथ और भी कई शहरों में अभियान चलाया और छापेमार कार्रवाई को अंजाम दिया. टीम ने  लखनऊ के बीकेटी के अचरामऊ गांव में छापा मारा. इसके अलावा रेड के दौरान लखनऊ के विकास नगर इलाके से एक युवक को पकड़ा गया. टीम ने दो लोगों को हिरासत में लिया है.


युवक को हिरासत में लेने का सीसीटीवी भी आया सामने

वहीं लखनऊ में पीएफआई को लेकर एटीएस की छापेमारी के दौरान विकास नगर से फोटो कॉपी शॉप से युवक को हिरासत में लेने का सीसीटीवी भी सामने आया. सीसीटीवी में एटीएस टीम युवक को ले जाते हुए नजर आ रही है. एटीएस को आशंका है कि उसका पिछले दिनों कुर्सी गांव और इटौंजा में पकड़े गए पीएफआई एजेंटों से संबंध है. वहीं एटीएस की टीमों ने देर रात बख्शी का तालाब इलाके के अचरामऊ गांव में छापा मारा. एटीएस ने गांव से मोहम्मद फरमान और जफर को हिरासत में लिया है. हालांकि गांव का प्रधान अरशद एक बार फिर मौके से फरार हो गया. इससे पहले एटीएस ने इसी गांव में छापा मारकर करीब 7 लोगों को हिरासत में लिया था. 



वहीं जानकारी मिली है कि एटीएस ने रिहाई मंच के अध्यक्ष मो शुएब को भी पकड़ा है. एटीएस ने उन्हें अमीनाबाद क्षेत्र में मौजूद उनके घर से उठाया है. एटीएस अब पीएफआई कनेक्शन को लेकर इनसे पूछताछ कर रही है. वहीं मो शुएब के परिजनों का दावा है कि उनका पीएफआई से कोई कनेक्शन नहीं है.


वहीं बहराइच के जरवल इलाके से यूपी एसटीएफ ने छापेमारी के दौरान एक युवक को हिरासत में लिया. बताया जा रहा है कि ये युवक पीएफआई का पूर्व में सक्रिय सदस्य रह चुका है. हिरासत में लिया गया युवक जरवल कस्बा के बैराकाजी मोहल्ले का रहने वाला बताया जा रहा है.


वहीं टीम ने गाजियाबाद और मेरठ से भी कुछ लोगों को हिरासत में लिया. गाजियाबाद के मोदीनगर में भोजपुर के कलछीना में छापेमारी की और मेरठ में एटीएस ने लिसाड़ी गेट थाना क्षेत्र से एक युवक को डिटेन किया.


हिरासत में लिए गए 15 लोग

छापेमारी के दौरान एटीएस की टीम ने लखनऊ, वाराणसी, मेरठ, गाजियाबाद और आजमगढ़ से 15 से ज्यादा लोगों को हिरासत में लिया. लखनऊ से चार लोगों को हिरासत में लिए जाने की जानकारी सामने आई है. वहीं मेरठ में पत्नी का इलाज कराने आए सपा नेता अब्दुल खालिक अंसारी को भी पीएफआई ने पकड़ा है. 


इससे पहले बीते 25 अप्रैल को पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया के खिलाफ नेशनल इन्वेस्टिगेशन एजेंसी काफी बड़ा एक्शन देखा गया था. भारत में प्रतिबंधित संगठन पीएफआई के खिलाफ एनआईए ने उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश और बिहार समेत कई राज्यों में छापेमारी की थी. पीएफआई के करीब 17 ठिकानों पर एक साथ छापेमारी कर कई लोगों को हिरासत में लिया था. प्रयागराज में हुए अतीक अहमद और आशा हत्याकांड मामले में भी यूपी एटीएस एक्टिव है. एटीएस की जांच में खुलासा हुआ था कि माफिया अतीक अहमद और अरशद यूपी के मुस्लिम युवाओं को विदेश भेजकर आतंकी संगठन से जुड़ते थे. इसके एवज में उन्हें हथियारों की खेप मिलती थी. यह हथियार पाकिस्तान से फोन के जरिए पंजाब भेजे जाते थे.

  • Share

ताजा खबरें

वीडियो