Fri, Apr 19, 2024

गंगा दशहरा पर श्रद्धालुओं ने लगाई आस्था की डुबकी, कहते हैं इस दिन स्वर्ग से धरती पर आती है गंगा मां, जानें क्या हैं इस पर्व की मान्यता

By  Shagun Kochhar -- May 30th 2023 11:32 AM
गंगा दशहरा पर श्रद्धालुओं ने लगाई आस्था की डुबकी, कहते हैं इस दिन स्वर्ग से धरती पर आती है गंगा मां, जानें क्या हैं इस पर्व की मान्यता

गंगा दशहरा पर श्रद्धालुओं ने लगाई आस्था की डुबकी, कहते हैं इस दिन स्वर्ग से धरती पर आती है गंगा मां, जानें क्या हैं इस पर्व की मान्यता (Photo Credit: File)

ब्यूरो: आज गंगा दशहरा है. हर साल ज्येष्ठ माह में शुक्ल पक्ष की दशमी तिथि को मां गंगा की पूजा की जाती है. ऐसा माना जाता है कि इस दिन गंगा स्नान करने से सारे पाप धुल जाते हैं. वहीं गंगा दशहरा पर लाखों श्रद्धालुओं आस्था की डुबकी लगाने पहुंचते हैं. कहा जाता है कि गंगा दशहरा के दिन ही राजा भागीरथ गंगा को स्वर्ग से धरती पर लाये थे.


श्रद्धालुओं ने वाराणसी में लगाई आस्था की डुबकी

काशी में गंगा दशहरा के मौके पर ब्रह्म मुहूर्त शुरू होते ही लाखों की संख्या में श्रद्धालु मां गंगा में आस्था की डुबकी लगाने पहुंच गए. डुबकी लगा श्रद्धालुओं ने मां गंगा से अपनी मनोकामनाओं को लेकर विशेष पूजा-अर्चना की. मान्यता है कि गंगा दशहरा के दिन गंगा स्नान करने से सात जन्मों के पाप कट जाते हैं. वहीं गंगा स्नान के लिए श्रद्धालुओं की भारी भीड़ को देखते हुए एनडीआरएफ की टीम गंगा घाटों पर तैनात हैं.




फर्रुखाबाद में लगा लंबा जाम

फर्रुखाबाद के गंगा तट के विभिन्न घाटों पर गंगा दशहरा पर मंगलवार को हजारों श्रद्धालुओं ने गंगा में आस्था की डुबकी लगाई. गंगा दशहरा पर पुण्य की डुबकी लगाने के लिए आधी रात से ही गंगा तटों पर श्रद्धालुओं का हुजूम पहुंचने लगा. प्रशासन की आधी अधूरी तैयारियों के बीच गंगा दशहरा का स्नान करने वाले श्रद्धालुओं को जाम का सामना करना पड़ा. यहां लोगों ने गंगा स्नान कर पूजा अर्चना की.  इसके अलावा किला घाट में भी स्नान के लिए बड़ी संख्या में श्रद्धालु गंगा घाटों पर पहुंच रहे हैं. दशहरा स्नान को लेकर सोमवार की रात से ही पांचाल घाट पर श्रद्धालु पहुंचने लगे थे. गंगा पूजन के बाद स्नान किया गया. हजारों की संख्या में श्रद्धालुओं ने डुबकी लगाई. शहरी इलाके के अलावा देहात से खूब भीड़ आई. ट्रैक्टरों के अलावा पैदल, साइकिल और दूसरे वाहनों से भी लोग पहुंचते रहे. पांचाल घाट चौराहे से पुल तक भीड़ का सैलाब नजर आया. वहीं जिला प्रशासन के किए इंतजाम धरे के धरे रह गए. घाटों की साफ सफाई के लिए कोई तैयारी नहीं की गई थी. गंगा घाटों पर हर स्नान पर्व पर खासी भीड़ होती है. जिससे यातायात व्यवस्था चौपट हो जाती है, इस बार भी यही हुआ.





वहीं फर्रुखाबाद में पुलिस अधीक्षक के लाख प्रयास के बाद भी शहर कोतवाली पुलिस गंगा में आस्था की डुबकी लगाने के लिये आ रहे श्रद्धालुओं को जाम की झाम से बचाने में नाकाम रही. हाईवे पर कई किलोमीटर लंबा जाम लग गया. जिसे खुलवाने के लिए पुलिस को एड़ी चोटी का जोर लगाना पड़ रहा है.



चित्रकूट में गंगा में डूबने से एक युवक की मौत

वहीं चित्रकूट से एक बुरी खबर है. गंगा दशहरा में चित्रकूट के रामघाट में आस्था की डुबकी लगाने आये युवक की स्नान के दौरान डूबने से मौत हो गई. युवक रामघाट के मध्य प्रदेश सीमा की जलधारा में डूब गया. युवक की मौत हनुमान जी की विशाल प्रतिमा के पास डूबने से हुई मौत.



  • Share

ताजा खबरें

वीडियो