Tue, May 21, 2024

UP News: गेहूं खरीद के पर्यवेक्षण के लिए नोडल अधिकारियों को किया गया तैनात, व्यवस्थाओं का ले रहे जायजा

By  Deepak Kumar -- April 21st 2024 05:00 PM
UP News: गेहूं खरीद के पर्यवेक्षण के लिए नोडल अधिकारियों को किया गया तैनात, व्यवस्थाओं का ले रहे जायजा

UP News: गेहूं खरीद के पर्यवेक्षण के लिए नोडल अधिकारियों को किया गया तैनात, व्यवस्थाओं का ले रहे जायजा (Photo Credit: File)

ब्यूरो: उत्तर प्रदेश में अन्नदाता किसानों की आय में वृद्धि और उन्हें समृद्ध करने में जुटी योगी सरकार ने वित्तीय वर्ष 2024-25 में 60 लाख मीट्रिक टन गेहूं खरीद का लक्ष्य निर्धारित किया है। इसके लिये योगी सरकार ने प्रदेश भर में 6500 क्रय केंद्र संचालित करने का लक्ष्य रखा है। इसके सापेक्ष वर्तमान में 6414 क्रय केंद्र संचालित किये जा रहे हैं। वहीं मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने गेहूं खरीद के पर्यवेक्षण के लिए नोडल अधिकारियों को भी तैनात किया है । सीएम योगी के निर्देश पर नोडल अधिकारी मौके पर जाकर गेहूं खरीद की व्यवस्थाओं का जायजा ले रहे हैं।  

करीब तीन लाख किसानों ने कराया रजिस्ट्रेशन

योगी सरकार की पारदर्शी नीतियों का ही असर है कि अब तक 6414 क्रय केंद्रों पर 2,75,759 किसानों ने रजिस्ट्रेशन कराया है। वहीं अब तक 1,91,492 किसानों का सत्यापन किया जा चुका है। इनमें से 72,100 किसानों का पब्लिक पोर्टल, जबकि 2,02,805 किसानों का एजेंसियों द्वारा रजिस्ट्रेशन किया गया है। इसके अलावा 854 बटाईदारों ने भी रजिस्ट्रेशन कराया है। सीएम योगी के निर्देश पर गेहूं खरीद के पर्यवेक्षण के लिए तैनात नोडल अधिकारियों ने शासन को अपनी रिपोर्ट सौंपी है। लखनऊ संभाग के नोडल अधिकारी प्रमुख सचिव खाद्य एवं रसद आलोक कुमार ने सीतापुर और लखीमपुर का दौरा किया। उनके अनुसार सीतापुर के किसानों द्वारा बोनस की मांग की गई है। वहीं सीतापुर में 1680 कुंतल और लखीमपुर खीरी में 13 हजार कुंटल गेहूं की खरीद की जा चुकी है। इसी तरह चित्रकूट, झांसी एवं कानपुर संभाग के नोडल अधिकारी खाद्य एवं रसद आयुक्त सौरभ बाबू ने महोबा, हमीरपुर, जालौन और कानपुर देहात का भ्रमण किया। उन्हाेंने अपनी रिपोर्ट में बताया कि महोबा में क्रय केंद्रों पर 100 कुंटल रोजाना गेहूं की खरीद हो रही है। वहीं कानपुर देहात के किसानों ने बोनस की मांग की है। अयोध्या संभाग के नोडल अधिकारी खाद्य एवं रसद विशेष सचिव अभिषेक गोयल ने अमेठी और बाराबंकी का दौरा किया। उन्होंने बताया कि यहां गेहूं की कटाई शुरू हो गई है, लेकिन मंडियों में गेहूं की आवक शुरू नहीं हुई है। गेहूं की खरीद के लिए सारी तैयारियों पूरी कर ली गई है। मंडियों में आवक शुरू होते ही खरीद शुरू कर दी जाएगी।

नोडल अधिकारियों की रिपोर्ट पर दिये आवश्यक दिशा-निर्देश 

इसी तरह मेरठ संभाग के नोडल अधिकारी खाद्य एवं रसद के विशेष सचिव प्रभाष कुमार, मुरादाबाद संभाग के नोडल अधिकारी खाद्य एवं रसद विभाग के अपर आयुक्त स्थापना कामता प्रसाद सिंह, सहारनपुर संभाग के नोडल अधिकारी कृषि विभाग के विशेष सचिव अजय कुमार द्विवेदी, झांसी संभाग के नोडल अधिकारी यूपीपीसीयू के प्रबंध निदेशक श्रीकांत गोस्वामी, बस्ती संभाग के नोडल कृषि विपणन विभाग के विशेष सचिव विनीत प्रकाश, आगरा संभाग के नोडल सहकारिता विभाग के विशेष सचिव नरेंद्र प्रसाद पांडेय, चित्रकूट संभाग के नोडल यूपीएसएस के प्रबंध निदेशक विनोद कुमार सिंह, बरेली संभाग के नोडल खाद्य एवं रसद के अपर आयुक्त राजीव कुमार मिश्र और अलीगढ़ संभाग के नोडल सहकारिता विभाग के अपर आयुक्त मनोज कुमार ने अपने-अपने जिलों का भ्रमण किया। साथ ही दौरे की रिपोर्ट शासन को भेजी। शासन ने नोडल अधिकारियों की रिपोर्ट के अनुसार गेहूं खरीद को लेकर आवश्यक दिशा-निर्देश जारी किये।

  • Share

ताजा खबरें

वीडियो