Fri, Jun 21, 2024

UP News: पारदर्शिता व शुचिता से कृषकों को योजनाओं का लाभ दिलाने के लिए संकल्पित है योगी सरकार

By  Deepak Kumar -- December 11th 2023 02:05 PM
UP News: पारदर्शिता व शुचिता से कृषकों को योजनाओं का लाभ दिलाने के लिए संकल्पित है योगी सरकार

UP News: पारदर्शिता व शुचिता से कृषकों को योजनाओं का लाभ दिलाने के लिए संकल्पित है योगी सरकार (Photo Credit: File)

लखनऊः योगी सरकार में हर कार्य पारदर्शिता व शुचिता से ही होता है। यह सर्वविदित है। किसानों को यूपी सरकार की योजनाओं का लाभ मिले। इसके लिए सरकार संकल्पित है। इसी आधार पर योगी सरकार कृषि यंत्रीकरण की समस्त योजनाओं के अंतर्गत कृषि यंत्र/कृषि रक्षा उपकरण,  कस्टम हायरिंग सेंटर, हाईटेक हब फॉर कस्टम हायरिंग, थ्रेसिंग फ्लोर व स्माल गोदाम पर अनुदान प्राप्त करने का अवसर किसानों को उपलब्ध करा रही है।

अनुदान प्राप्त करने के लिए 30 नवंबर से चल रही आवेदन की प्रक्रिय

कृषि यंत्र वितरण के लिए लाभार्थी चयन में पहले आओ-पहले पाओ व्यवस्था को समाप्त कर प्राप्त आवेदन के लिए बुकिंग  में ई-लॉटरी के माध्यम से लाभार्थी के चयन की व्यवस्था प्रारंभ की गई है। 10 हजार से अधिक अनुदान वाले कृषि यंत्रों के आवेदन के लिए बुकिंग प्रक्रिया चल रही है। कृषि यंत्रीकरण की योजनाओं- एनएफएसएम, एसएमएएम, एनएमएओ (ओएस-टीबीओ) में कृषि यंत्र/कृषि रक्षा उपकरण,  कस्टम हायरिंग सेंटर, हाईटेक हब फॉर कस्टम हायरिंग, थ्रेसिंग फ्लोर व स्माल गोदाम पर अनुदान प्राप्त करने के लिए आवेदन व बुकिंग 30 नवंबर से चल रही है।

14 दिसंबर तक आवेदन कर सकेंगे किसान

  • इच्छुक लाभार्थी/कृषक 14 दिसंबर तक आवेदन कर सकेंगे। 30 नवंबर से 14 दिसंबर तक की अवधि में प्राप्त समस्त बुकिंग की सूची से जिलाधिकारी की अध्यक्षता में गठित जिला स्तरीय कार्यकारी समिति के समक्ष विभागीय पोर्टल पर ई-लॉटरी के माध्यम से ब्लॉकवार लक्ष्यों के सापेक्ष लाभार्थी का चयन किया जायेगा।
  • लाभार्थी/कृषक विभागीय दर्शन पोर्टल www.agriculturs.up.gov.in पर "यंत्र पर अनुदान हेतु टोकन निकालें' लिंक पर क्लिक कर ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं।
  • ई-लॉटरी व्यवस्था में लक्ष्य के अनुरूप चयनित किये जाने वाले लाभार्थियों की संख्या के अतिरिक्त लक्ष्य का 50 प्रतिशत तक क्रमवार प्रतीक्षा सूची भी तैयार की जायेगी। लक्ष्य की पूर्ति न होने की दशा में अवशेष लक्ष्यों के सापेक्ष ई-लॉटरी द्वारा तैयार प्रतीक्षा सूची के क्रम में लाभार्थी का चयन किया जायेगा।
  • ई-लॉटरी के लिए स्थल, तिथि एवं समय की जानकारी आवेदकों के मध्य संबंधित जनपदीय उप कृषि निदेशक द्वारा अनिवार्य रूप से उपलब्ध कराई जाएगी।

इन कृषि यंत्रों पर मिलेगा अनुदान

लेजर लैंड लेवलर,  पोस्ट होल डिगर, पोटैटो प्लांटर, पोटैटो डिगर, शुगर केन कटर प्लांटर, शुगर केन थ्रेस कटर, शुगर केन रेटून मैनेजर, हैरो, कल्टीवेटर, पावर स्प्रेयर, मल्टीक्रॉप थ्रेसर, पावर चैफ कटर, स्ट्रा रीपर, ब्रस कटर, मिनी राइस मिल, मिनी दाल मिल, मिलेट मिल, सोलर ड्रायर, ऑयल मिल विद फिल्टर प्रेस, पैकिंग मशीन, रोटावेटर, ट्रैक्टर माउंटेड स्प्रेयर, ब्रिकेट मेकिंग मशीन, यूरिया डीप प्लेसमेंट एप्लीकेटर, सेल्फ प्रोपेल्ड यंत्र, पावर टिलर, पावर वीडर, कम्बाइन हार्वेस्टर विद सुपर एस.एम.एस., राइस ट्रांसप्लांटर, जीरो टिल मल्टीक्रॉप प्लांटर, मेज सेलर, हैप्पी सीडर, रीपर कम बाइंडर, सामुदायिक श्रेसिंग फ्लोर, छोटा गोदाम, कस्टम हायरिंग सेन्टर, हाईटेक हब फॉर कस्टम हायरिंग आदि पर अनुदान का लाभ मिलेगा।

  • Share

ताजा खबरें

वीडियो