Advertisment

जी-20 सम्मेलन: पुरातन शहर को सजाने संवारने में जुटी योगी सरकार, 50 से ज्यादा किस्म के फूलों से सज रही काशी

वाराणसी: उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने जी-20 समिट की काशी में होने जा रही बैठक के पहले इस पुरातन नगरी की तस्वीर को बदलकर रख दिया है. काशी के चौराहों और सड़कों को दुल्हन की तरह सजाया जा रहा है. 6 से अधिक प्रदेशों के 50 से अधिक क़िस्म के फूलों से वाराणसी को सजाने का काम चल रहा है.

author-image
Shagun Kochhar
Updated On
New Update
जी-20 सम्मेलन: पुरातन शहर को सजाने संवारने में जुटी योगी सरकार, 50 से ज्यादा किस्म के फूलों से सज रही काशी

वाराणसी: उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने जी-20 समिट की काशी में होने जा रही बैठक के पहले इस पुरातन नगरी की तस्वीर को बदलकर रख दिया है. काशी के चौराहों और सड़कों को दुल्हन की तरह सजाया जा रहा है. 6 से अधिक प्रदेशों के 50 से अधिक क़िस्म के फूलों से वाराणसी को सजाने का काम चल रहा है.

Advertisment



20 दिग्गज देशों से आने वाले अतिथियों का होगा भव्य स्वागत

काशी में दुनिया के 20 दिग्गज देशों से आने वाले अतिथियों के स्वागत को तैयार हो रही है. खास फूलों से चौराहे, मेहमानों के आने-जाने के रास्तों को सजाने के साथ ही लैंडस्कैपिंग के माध्यम से आकर्षक बनाया जा रहा है. वीआईपी रूट, नमो घाट, ट्रेड फैसिलिटी सेण्टर, सारनाथ, एयरपोर्ट के आसपास के क्षेत्र को खास थीम पर सजाया जा रहा है. प्रतिष्ठानों और अन्य जगहों पर जी-20 देशों के झंडे लगाए जा रहे है. लैंडस्केपिंग के माध्यम से जी-20 देशों की पहचान वाली विशेष चीजों को भी आकार दिया जाएगा. काशी के लोगों के लिए टोपिएरी (TOPIARY) सेल्फी प्वाइंट बन गया है.  

Advertisment



अंतरराष्ट्रीय कार्यक्रमों के लिए तैयार है काशी

नई काशी का बदला स्वरूप अब अंतरराष्ट्रीय कार्यक्रमों के लिए तैयार है. जी-20 समिट में शामिल होने वाले मेहमान एयरपोर्ट से निकलते ही बनारस की खूबसूरती निहार पाएंगे. शहर को फूलों से सजाने और लैंडस्केपिंग का काम कर रहे डीके डेकोरेट के ओनर दिनेश मौर्या ने बताया कि 6 से अधिक प्रदेशों के 50 से अधिक किस्म के फूल मंगाए गए हैं. एयरपोर्ट के आस-पास और अन्य खाली जगहों को लैंड स्केपिंग के माध्यम से खूबसूरत बनाया जा रहा जा रहा. संत अतुलानन्द चौराहे पर जी-20 का लोगों और ग्रीन डॉल्फिन की आकृति लोगो का मन मोह रही है. एयरपोर्ट से मेहमानों के रुकने और घूमने के स्थान और रास्तों को डेकोरेट किया जा रहा है. वरुणा ब्रिज पर वर्टिकल गार्डन बनाया गया है और उसके आस-पास की जगहों पर बारहसिंघा, जिराफ व पशु-पक्षियों की टोपिएरी बनाई गई है. जो शहर वासियों के लिए सेल्फी पॉइंट बन गया है. 

Advertisment



पर्यटन का नया केंद्र बन चुका नमो घाट 

डेकोरेटर दिनेश मौर्या ने बताया कि वाराणसी के अलावा आंध्र प्रदेश, बेंगलुरु, कोलकाता, गुजरात, दिल्ली, आगरा और अन्य जगहों से सजावटी फूलों को मंगाया गया है. वीआईपी रूटों को बेहद आकर्षक बनाया जा रहा है. शहर में मेहमानों के गुजरने वाले रास्तों पर गमले रखे गए हैं, रोड डिवाइडर को फूलों से सजाया गया है. ट्रेड फैसिलिटी सेंटर में जी-20 देशों के थीम पर गार्डन बनाया जाएगा है. जहां जी-20 देशों के झंडों के साथ उस देश की ख़ास पहचान वाली चीजों को बनाया जाएगा. पर्यटन का नया केंद्र बन चुका नमो घाट पर कई तरह के फूलों से सजावट की जा रही.

varanasi-news uttar-pradesh-news cm-yogi-adityanath up-cm-yogi g-20-summit g-20
Advertisment