Fri, Jun 21, 2024

सब्जी विक्रेता के खाते में आ गया 172 करोड़ रुपया, जांच जारी

By  Shivesh jha -- March 7th 2023 08:14 AM
सब्जी विक्रेता के खाते में आ गया 172 करोड़ रुपया, जांच जारी

सब्जी विक्रेता के खाते में आ गया 172 करोड़ रुपया, जांच जारी (Photo Credit: File)

आपके बैंक खाते में यदि 100 करोड़ रुपया अचानक आ जाए तो आप क्या करेंगे? यदि ऐसा हुआ तो आपका परेशान होना लाजमी है। ऐसा ही एक मामला उत्तर प्रदेश में सामने आया है जहाँ एक सब्जी विक्रेता के खाते में 172 करोड़ रुपया आ गया जिससे खाता धारक परेशान हैं। पैसे आने के बाद लगभग एक महीने से सब्जी विक्रेता विजय रस्तोगी और उनके परिवार के सदस्यों की रातों की नींद उड़ी हुई है। 

सब्जी विक्रेता ने दावा किया है कि खाता उसका नहीं था और उसका पैन नंबर और अन्य विवरण खाता खोलने में किसी के द्वारा इस्तेमाल किए गए थे। गाजीपुर जिले के गहमर थाना क्षेत्र के मैगर रायपट्टी इलाके के एक गांव के रहने वाले सब्जी विक्रेता और उसके परिवार से अब आयकर विभाग के अधिकारियों, पुलिस और अन्य संबंधित एजेंसियों का आना-जाना लगा रहता है। 

अधिकारियों ने कहा कि रस्तोगी के नाम पर 172 करोड़ रुपये की जमा राशि वाले खाते की जांच की जा रही है क्योंकि आईटी विभाग ने संबंधित डिजिटल मनी ट्रांसफर एजेंसी से यह स्पष्ट करने के लिए स्पष्टीकरण मांगा है कि रस्तोगी के खाते में यह राशि कैसे भेजा गया है। इस बीच, रस्तोगी के इस दावे की भी जांच की जा रही है कि खाता उन्होंने नहीं खोला था। 

सोमवार को इंस्पेक्टर गहमर पवन कुमार उपाध्याय ने कहा कि विजय रस्तोगी के नाम से मौजूद एक बैंक खाते में 172.81 करोड़ रुपये जमा किए जाने की बात सामने आने के बाद हमने मामले की जांच की। क्योंकि यह डिजिटल का मामला है। ट्रांसफर मामले को जांच के लिए साइबर क्राइम सेल को ट्रांसफर कर दिया गया है। 

मामला करीब एक महीने पहले तब सामने आया था जब आईटी अधिकारियों को आय से अधिक धन हस्तांतरण की एक सूची मिली थी। सूची से खुलासा हुआ कि रस्तोगी के नाम पर 172 करोड़ रुपये से ज्यादा रूपया ट्रांसफर किए गए हैं। आईटी अधिकारियों ने मामले की जांच शुरू की और डिजिटल मनी ट्रांसफर को संभालने वाली एजेंसियों को इतनी बड़ी रकम के ट्रांसफर की जड़ का पता लगाने को कहा गया। 

रस्तोगी ने कहा कि उन्हें उस बैंक खाते के बारे में कोई जानकारी नहीं है जिसमें 172 करोड़ रुपये जमा किए गए हैं। उसने दावा किया कि किसी ने इस खाते को खोलने के लिए उसके पैन कार्ड और अन्य दस्तावेजों का दुरुपयोग किया है।

  • Share

ताजा खबरें

वीडियो