Advertisment

तिरंगा यात्रा के आह्वान पर बरेली के मौलवी मौलाना तौकीर रजा खान नजरबंद

उत्तर प्रदेश के बरेली जिले के एक मौलवी मौलाना तौकीर रजा को हिंदू संगठनों पर प्रतिबंध लगाने की मांग को लेकर बुधवार को दिल्ली से तिरंगा यात्रा निकालने के उनके आह्वान के पर नजरबंद कर दिया गया है।

author-image
Shivesh jha
Updated On
New Update
तिरंगा यात्रा के आह्वान पर बरेली के मौलवी मौलाना तौकीर रजा खान नजरबंद

उत्तर प्रदेश के बरेली जिले के एक मौलवी मौलाना तौकीर रजा को हिंदू संगठनों पर प्रतिबंध लगाने की मांग को लेकर बुधवार को दिल्ली से तिरंगा यात्रा निकालने के उनके आह्वान के पर नजरबंद कर दिया गया है। पुलिस और आईबी के अधिकारी पहले बरेली में तौकीर रजा के आवास पर पहुंचे थे।

Advertisment

रजा को घर में नजरबंद रखा गया है क्योंकि उन्होंने बजरंग दल और विहिप जैसे दक्षिणपंथी हिंदू संगठनों पर प्रतिबंध लगाने की मांग को लेकर दबाव बनाने के लिए मुस्लिमों खासकर युवाओं को बरेली से राष्ट्रपति भवन तक की यात्रा में शामिल होने का आह्वान किया था।

यात्रा शुरू करने के लिए तौकीर रजा को कल दोपहर 12 बजे इकट्ठा होना था और 20 मार्च को दिल्ली राष्ट्रपति भवन पहुंचना था। इससे पहले इत्तेहाद-ए-मिल्लत परिषद के राष्ट्रीय अध्यक्ष मौलाना तौकीर रज़ा ने विवाद खड़ा कर दिया कि जो लोग हिंदू राष्ट्र की मांग करते हैं उन पर देशद्रोह का मामला दर्ज किया जाना चाहिए।

उन्होंने यह भी कहा कि हिंदू राष्ट्र की मांग मुस्लिम युवाओं को एक अलग मुस्लिम राष्ट्र की मांग के लिए प्रेरित कर सकती है। 25 फरवरी को तौकीर रज़ा खान ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को 'धृतराष्ट्र' कहा और कहा कि पीएम को 'दुर्योधन' और 'दुशासन' पर लगाम लगानी चाहिए जो देश में मॉब लिंचिंग में लिप्त हैं।

up-news up-government up-police maulana-tauqeer-raza-khan-under-house-arrest
Advertisment