Advertisment

वाराणसी को अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम देने की तैयारी लगभग पूरी, 2024 में बनकर होगा तैयार

लखनऊ और कानपुर के बाद अब उत्तर प्रदेश के वाराणसी में प्रदेश का तीसरा अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम बनने के लिए तैयार है, जिसपर इसी साल मई-जून तक शुरू होने की सम्भावना है।

author-image
Shivesh jha
Updated On
New Update
वाराणसी को अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम देने की तैयारी लगभग पूरी, 2024 में बनकर होगा तैयार

लखनऊ और कानपुर के बाद अब उत्तर प्रदेश के वाराणसी में प्रदेश का तीसरा अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम बनने के लिए तैयार है, जिसपर इसी साल मई-जून तक शुरू होने की सम्भावना है। राज्य सरकार ने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम के लिए वाराणसी के राजातालाब क्षेत्र में 31 एकड़ जमीन चिन्हित की है, जिसे उत्तर प्रदेश क्रिकेट एसोसिएशन और भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड को सौंपी जाएगी।

Advertisment

बीसीसीआई के सचिव जय शाह और बीसीसीआई उपाध्यक्ष राजीव शुक्ला ने इस संबंध में इस सप्ताह की शुरुआत में वाराणसी का दौरा भी किया था।उत्तर प्रदेश सरकार ने अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम के निर्माण के लिए राजातालाब तहसील के गंजरी गाँव में लगभग 31 एकड़ भूमि चिन्हित की है। 

यूपीसीए के निदेशक युद्धवीर सिंह ने बताया कि कानपुर में ग्रीन पार्क और लखनऊ में अटल बिहारी वाजपेयी इकाना स्टेडियम के बाद यह राज्य का तीसरा ऐसा स्टेडियम होगा जहां अंतरराष्ट्रीय मैच खेले जाएंगे। उन्होंने कहा कि नए स्टेडियम का निर्माण कार्य इस साल मई-जून तक शुरू हो जाएगा और स्टेडियम के 2024 के अंत तक पूरा होने की संभावना है।

सिंह ने कहा कि प्रस्तावित क्रिकेट स्टेडियम के निर्माण की लागत लगभग 300 करोड़ रुपये है। उन्होंने कहा कि प्रस्तावित अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम अंतरराष्ट्रीय मानकों के अनुसार बनाया जाएगा जिसमे 30,000 दर्शकों के बैठने की क्षमता होगी।

चिन्हित जमीन को यूपीसीए को इस महीने के अंत तक 30 साल की लीज पर दे दी जाएगी। लीज के एवज में यूपीसीए यूपी सरकार को हर साल 10 लाख रुपये देगा। इसके बाद यूपीसीए अपना स्टेडियम बनाएगा। शर्मा ने यह भी कहा कि यह संभव है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इस साल जून में अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम की नींव रखें।

up-government varanasi-international-cricket-stadium bcci upca bcci-secretary-jay-shah
Advertisment