Wed, Apr 24, 2024

काशीवासियों के लिए सौगात, काशी विश्वनाथ धाम तक दौड़ेगी सोलर वाटर टैक्सी

By  Mohd. Zuber Khan -- December 14th 2022 12:38 PM
काशीवासियों के लिए सौगात, काशी विश्वनाथ धाम तक दौड़ेगी सोलर वाटर टैक्सी

काशीवासियों के लिए सौगात, काशी विश्वनाथ धाम तक दौड़ेगी सोलर वाटर टैक्सी (Photo Credit: File)

वाराणसी/लखनऊ: काशीवासियों के लिए ये एक बड़ी ख़ुशख़बरी है कि काशी विश्वनाथ धाम तक जाने के लिए श्रद्धालुओं को गोदौलिया और मैदागिन के जाम से अब नहीं जूझना पड़ेगा। दरअसल अप्रैल 2023 से ही रविदास और नमो घाट से विश्वनाथ धाम तक सोलर वाटर टैक्सी चलाई जाएगी, इसके ज़रिये श्रद्धालु जलमार्ग से ही धाम तक पहुंच जाएंगे और कम खर्च व कम समय में ही दर्शन-पूजन कर लेंगे। टैक्सी की ये सहूलियत हर घंटे मिलेगी।  

गौरतलब है कि सोलर वाटर टैक्सी के लिए पब्लिक-प्राइवेट पार्टनरशिप के तहत संभावना तलाशी जा रही हैं। पीपीपी मॉडल के अलावा पर्यटन विभाग के ज़रिये सोलर वाटर टैक्सी के संचालन की भी योजना है। 20 से 30 सीटर सोलर वाटर टैक्सी के संचालन और किराये आदि के पहलु पर गंभीरता से मंथन किया जा रहा है, जिसके लिए जल्द ही कमेटी का गठन हो सकता है। 

जानकारी के मुताबिक़ काशी विश्वनाथ धाम को जलमार्ग से जोड़ने के लिए गंगा द्वार के नीचे ललिता घाट पर जेटी का निर्माण किया जाएगा। इसके लिए प्रशासन ने सर्वे की कार्रवाई शुरू कर दी है। जेटी के लिए स्थान निर्धारित कर दिया है। इस जेटी के ज़रिये ही सोलर वाटर टैक्सी का संचालन होगा। इसी तरह  गंगा में दो लेन बनाने के साथ ही रूट की निगरानी भी होगी। इसमें सभी नाव, क्रूज सहित अन्य बोट को निर्धारित रूट से आगे बढ़ाया जाएगा। गलत लेन में जाने वाली नावों पर जुर्माने की कार्रवाई की जाएगी। इस बाबत मंडलायुक्त कौशल राज शर्मा ने बताया कि काशी विश्वनाथ धाम को और भव्य बनाना जाएगा। दो महीने में अन्य भवन, रेस्टोरेंट और कैफे भी शुरू हो जाएंगे। 

वाराणसी बना देश का दूसरा वाटर टैक्सी चलाने वाला शहर

आपको बता दें कि जिस तरह की वाटर टैक्सी गंगा में दौड़ाने की योजना है, उसका संचालन पहले से ही मुंबई और नवी मुंबई के बीच किया जा रहा है। इसका मतलब है कि वाराणसी देश का दूसरा शहर होगा, जहां वाटर टैक्सी का संचालन होगा।  

-PTC NEWS

  • Share

ताजा खबरें

वीडियो