Wed, Apr 24, 2024

UP: अयोध्या, काशी के बाद अब फोकस मथुरा-वृंदावन पर- योगी आदित्यनाथ

By  Rahul Rana -- April 4th 2024 07:07 PM

UP: अयोध्या, काशी के बाद अब फोकस मथुरा-वृंदावन पर- योगी आदित्यनाथ (Photo Credit: File)

ब्यूरो: मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि अयोध्या और काशी के बाद अब मथुरा और वृंदावन पर सरकार का पूरा फोकस है। उन्होंने कहा कि मथुरा-वृंदावन में विकास की गति को और तेज किया जाएगा। उन्होंने न्यायालयों में चल रहे मामलों में भी जीत मिलने की उम्मीद जताई। साथ ही कांग्रेस और इंडी गठबंधन के लोगों को चेतावनी भी दी कि मातृ शक्ति का अपमान करने वालों को पूरा देश सबक सिखाने के लिए तैयार है। सीएम ने कहा कि मथुरा राधा रानी और यमुना मइया की भूमि है। यहां मातृशक्ति पर ओछी टिप्पणी करने वालों को भगवान भी बचा पाएंगे या नहीं, इसमें भी संदेह है। मुख्यमंत्री गुरुवार को यहां सेठ बी.एन. पोद्दार इण्टर कॉलेज मैदान में आयोजित विजय संकल्प नामांकन सभा को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने वर्तमान सांसद और बीजेपी की ओर से लोकसभा प्रत्याशी हेमा मालिनी के पक्ष में प्रचार किया। सीएम योगी ने इस अवसर पर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के 10 साल के कार्यकाल की उपलब्धियां भी गिनाईं। 

राजनीति करने लायक नहीं रहेंगे इंडी गठबंधन वाले
मुख्यमंत्री ने वर्तमान सांसद हेमा मालिनी को तीसरी बार प्रतिष्ठित मथुरा सीट से नामांकन के लिए शुभकामनाएं दीं। उन्होंने कहा कि तीसरी बार हेमा जी यहां से प्रत्याशी बनी हैं तो दूसरी पार्टियों के पास प्रत्याशी ढूंढे नहीं मिल रहे। उन्हें उधार में प्रत्याशी लेने पड़ रहे हैं और जब उधार में भी नहीं मिल रहे तो कांग्रेस के नेता अपना आपा खो चुके हैं। मातृ शक्ति पर अपमानजनक टिप्पणी करके आधी आबादी का अपमान करने पर उतारू हो चुके हैं। मगर इंडी गठबंधन वालों को जानकारी होनी चाहिए कि ये राधे रानी और यमुना मइया की भूमि है। अगर आधी आबादी का अपमान करोगे तो पूरा भारत ऐसा सबक सिखाएगा कि राजनीति करने लायक नहीं रहोगे। उन्होंने कहा कि लोकतंत्र में अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता है, मगर इसका मतलब ये नहीं कि हम मातृशक्ति का अपमान करे। 

dfg

कांग्रेसियों को भगवान भी बचा पाएगा या नहीं, इसपर संदेह
मुख्यमंत्री ने कहा कि हमें व्यक्तिगत रूप से कोई पसंद हो न हो, मगर हम कला, संस्कृति और जाति को टार्गेट नहीं कर सकते। अगर कोई ऐसा कर रहा है तो वो अपने लिए खुद गड्ढा खोद रहा है। उन्होंने कहा कि मथुरा कला की भूमि है। भगवान कृष्ण ने 16 कलाओं के साथ यहीं पर अवतार लिया है। कला का सम्मान करने के लिए इससे अच्छी भूमि कौन हो सकती है। इसलिए भारत की सुविख्यात सिने अदाकारा जिन्होंने अपनी कला और प्रतिभा के माध्यम से भारत की संस्कृति और सभ्यता को वैश्विक मंच पर स्थापित करने में पूरा जीवन लगा दिया हो। इनके मंचन को देखने के लिए दुनियाभर के लाखों लोग जुटते हैं। इसका सम्मान कौन भारतीय नहीं करेगा, यदि ये भी कांग्रेसियों को बुरा लगता है, तो उन्हें भगवान भी बचा पाएगा या नहीं इसपर संदेह होता है। 

न्यायालयों में भी अंतत: हमारी जीत होनी है
सीएम योगी ने सवाल किया कि 60 साल तक सत्ता में रहने वाली कांग्रेस ने काशी, मथुरा और अयोध्या में विकास क्यों नहीं किया। हेमा मालिनी जी के सुझाव पर मथुरा, वृंदावन, बरसाना, गोकुल, बलदेव का विकास ब्रज तीर्थ विकास परिषद के माध्यम से यहां विकास कार्यों को सुनिश्चित किया गया है। ऐसे ही सभी तीर्थों में विकास तेज गति से आगे बढ़ रहा है। कई जगह न्यायालयों में मामला होने के कारण हमें रुकना पड़ता है। मगर हम यही मानकर चलते हैं कि अंतत: हमारी जीत होनी है। हमने अयोध्या के लिए 500 साल तक इंतजार किया मगर संघर्ष से कभी पीछे नहीं हटे और अंतत: परिणाम हमारे पक्ष में आया। मुख्यमंत्री ने कहा कि आखिर क्या वजह थी कि अयोध्या में श्रीराम के मंदिर का निर्माण सपा, बसपा और कांग्रेस ने नहीं किया। ये लोग तो रामभक्तों पर गोली चलाते थे। कोई जय श्रीराम भी कह देता था तो उनपर लाठी और गोलियां चलती थीं। 

नमामि गंगे की तर्ज पर चलेगा यमुना मइया की शुद्धि का अभियान
मुख्यमंत्री ने कहा कि काशी और अयोध्या में विकास के कार्य लाइनअप हैं। अब हमारा पूरा फोकस ब्रज भूमि पर है। 84 कोसी, गोवर्धन परिक्रमा, बरसाना परिक्रमा और यमुना मइया की शुद्धि के साथ ही यहां के कुंडों का सौंदर्यीकरण जैसे सभी कार्य यहां की जनभावना के आधार पर किये जाने हैं। ये सभी कार्य युद्ध स्तर पर आगे बढ़ने वाले हैं। सीएम योगी ने कहा कि अयोध्या, मथुरा और काशी में सबसे पहले चुनाव मथुरा में हो रहा है। ये एक संदेश है जो पूरे देश के लिए स्पष्ट होना चाहिए। अयोध्या और काशी में काम हो चुका है। अब मथुरा वृंदावन के विकास के लिए तीसरी बार हेमा जी को प्रचंड बहुमत से विजयी बनाने के लिए सभी को लगना होगा। उन्होंने कहा कि नमामि गंगे की तर्ज पर यमुना मइया की शुद्धि के लिए अभियान चलाया जाएगा। 

dg

मथुरा वासियों को विंध्यवासिनी धाम आने का निमंत्रण
मुख्यमंत्री ने मथुरा वासियों को मीरजापुर में विंध्यवासिनी धाम आने का निमंत्रण दिया। उन्होंने कहा कि विंध्य धाम में जहां पहले दो लोग एकसाथ नहीं चल सकते थे आज वहां 100 लोग के लिए जगह हो चुकी है। उन्होंने पूछा कि क्या कांग्रेस, सपा और बसपा ये सभी कार्य कर सकते थे। क्या वे व्यापारियों और बेटियों को सुरक्षा का माहौल दे सकते थे। व्यापारी और बेटियों के लिए इनकी धारणा क्या है वो इनके भाषणों को सुनकर समझा जा सकता है। ऐसे में इन लोगों से कोई उम्मीद करना और अपना वोट इनपर खराब करने की जरूरत नहीं है। हमारा वर्तमान सुरक्षित और उज्ज्वल रहे और भविष्य उन्नति की नई पराकाष्ठा को प्राप्त करते हुए विकसित भारत की संकल्पना को साकार होता देख सकें। इसके लिए हमें हेमा जी को पिछले दो बार में जितने वोट मिले थे उन दोनों को जोड़कर जितना आए उससे ज्यादा वोटों से जिताना होगा। 

56 इंच चौड़ा राष्ट्रीय स्वाभिमान 
मुख्यमंत्री ने कहा कि पहली बार भारत ने ऐसी सरकार को देखा है, जिसने भारत की भावना के अनुरूप उसके सम्मान की रक्षा की, सुरक्षा और समृद्धि का वातावरण प्रदान किया। राष्ट्रीय स्वाभिमान को 56 इंच चौड़ा करते हुए दुनिया में भारत के गौरव को बढ़ाने का कार्य किया है। आज देश में वर्ल्ड क्लास इन्फ्रास्ट्रक्चर तैयार हो रहा, गरीब कल्याण की योजनाएं गरीबों तक सीधे पहुंच रही हैं। 

इस अवसर पर प्रदेश सरकार में मंत्री स्वतंत्र देव सिंह, चौधरी लक्ष्मी नारायण, राज्यसभा सांसद चौधरी तेजवीर सिंह, बीजेपी जिलाध्यक्ष निर्भय पांडेय, महानगर अध्यक्ष घनश्याम लोधी, प्रभारी अशोक कटारिया, विधायकगण पूरन प्रकाश, ठाकुर मेघ श्याम सिंह, राजेश चौधरी, लोकसभा प्रभारी श्याम भदौरिया, डॉ देवेन्द्र शर्मा, जिला प्रचायत अध्यक्ष चौधरी किशन सिंह, महापौर विनोद अग्रवाल, एमएलसी योगेश चौधरी, पूर्व सांसद कुंवर मानवेन्द्र सिंह, जिलाध्यक्ष रालोद राजपाल आदि गणमान्य मौजूद रहे। 

  • Share

ताजा खबरें

वीडियो