Sat, Apr 20, 2024

Raebareli News: पत्नी और दो बच्चों की हत्या के बाद डॉक्टर ने लगाई फांसी, एक ही कमरे में मिले शव, जांच शुरू

By  Deepak Kumar -- December 6th 2023 06:34 PM
Raebareli News: पत्नी और दो बच्चों की हत्या के बाद डॉक्टर ने लगाई फांसी, एक ही कमरे में मिले शव, जांच शुरू

Raebareli News: पत्नी और दो बच्चों की हत्या के बाद डॉक्टर ने लगाई फांसी, एक ही कमरे में मिले शव, जांच शुरू (Photo Credit: File)

रायबरेली/लखनऊ/जय कृष्णाः यूपी के रायबरेली जिले में एक डॉक्टर ने अपनी पत्नी और दो बच्चों की हत्या करने के बाद आत्महत्या कर ली। डॉक्टर मॉडर्न रेल कोच फैक्ट्री में कार्यरत थे। रेलवे कोच फैक्ट्री कैंपस में बने सरकारी आवास में चारों के शव बरामद हुए हैं। सूचना मिलने के बाद पुलिस के आला अधिकारी मौके पर पहुंचे। पुलिस के मुताबिक वारदात को रविवार की देर रात अंजाम दिया गया। फिलहाल मामले की जांच पड़ताल की जा रही है।

ये है मामला

जानकारी के मुताबिक रायबरेली जिले के लालगंज में रेल कोच कैंपस में बने आवास में नेत्र सर्जन डॉक्टर अरुण सिंह (45), पत्नी अर्चना, बेटी अदीवा (12) और बेटा आरव (4) के साथ रहते थे। घटना का खुलासा तब हुआ जब उनके हॉस्पिटल का कर्मचारी मंगलवार देर रात घर पहुंचा, दरअसल दो दिनों तक ना कोई घर से बाहर आया था और ना ही घर के अंदर गया। वह दो दिनों से अपने हॉस्पिटल भी नहीं पहुंचे थे। डॉक्टर के आवास पर पहुंचे कर्मचारियों ने काफी देर तक दरवाजा खटखटाया, लेकिन अंदर से कोई जवाब नहीं मिला। इसके बाद स्थानीय पुलिस को सूचना दी गई। सूचना मिलने के बाद पुलिस अधीक्षक आलोक प्रियदर्शी समेत कई पुलिस के अधिकारी मौके पर पहुंचे। परिवार के चारों सदस्यों के शव पुलिस ने कमरे के अंदर से बरामद किए हैं। फॉरेंसिक टीमों ने भी घटना स्थल से साक्ष्य जुटाए है। बताया जा रहा है, कि डॉक्टर अरुण कुमार मानसिक रूप से परेशान थे।

डिप्रेशन के शिकार था मेडिकल ऑफिसर

पुलिस के मुताबिक रेल कोच फैक्ट्री में 2017 से असिस्टेंट डिवीजन मेडिकल ऑफिसर (आई स्पेशलिस्ट) डॉ अरुण सिंह अपने परिवार के साथ रह रहे थे। जोकि डिप्रेशन के शिकार थे। वह मूल रूप से मिर्जापुर जिले के रहने वाले थे। मौत से पहले कई तरह के इंजेक्शन लेने की बात सामने आई है। प्रथम दृष्टया बच्चों को नशीला पदार्थ खिलाकर बेहोश किया गया। जिसके बाद उनके सिर पर हमला कर मारा गया। डॉक्टर द्वारा अपनी नसों को काटने का भी प्रयास किया गया। सफल न होने पर डॉक्टर ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली।

चारों के शव एक ही कमरे में मिले: पुलिस

पुलिस ने जानकारी देते हुए बताया कि चारों के शव एक ही कमरे में मिले हैं। ‌ पत्नी और बेटे का शव एक बेड पर था, जबकि बेटी का शव दूसरे बेड पर था। डॉ अरुण सिंह का शव फंदे से लटकता हुआ मिला था। पूरे कमरे में खून ही खून फैला हुआ था। बेड पर खून से सनी चादर मिली है। पत्नी के सिर को बुरी तरह हथौड़े से कूचा गया और बेटी के चेहरे पर हथोड़ा मारा गया है। वहीं बेटे के शरीर पर भी चोटों के निशान हैं।

फंदे पर लटका मिला डॉक्टर अरुण सिंह का शव

डॉक्टर अरुण सिंह का शव कमरे के अंदर फंदे पर लटका था। उनके एक हाथ में वीगो लगी थी। हाथ में कई काट के निशान थे, जिससे खून निकल रहा था। डॉक्टर के कपड़े भी खून से सने थे। कमरे के अंदर एक मैच पर खून से सना हुआ हथोड़ा भी बरामद हुआ है। आशंका है, इसी हथौड़े से सभी की हत्या की गई।

डॉक्टर अरुण ने पत्नी और बच्चों की हत्या करने के बाद की आत्महत्या: SP
रायबरेली पुलिस अधीक्षक आलोक प्रियदर्शी ने बताया कि शुरुआती जांच के आधार पर ऐसा लग रहा है कि डॉक्टर अरुण ने पत्नी और बच्चों की हत्या करने के बाद आत्महत्या की है। कमरे से नशे की दवाइयां और इंजेक्शन भी बिखरे हुए मिले हैं। घटनास्थल को देखकर ऐसा लग रहा है, कि बच्चों को पहले नशे की कुछ चीज खिलाकर बेहोश किया गया, फिर उनके सिर में हमला कर हत्या की गई। डॉक्टर ने पहले अपने हाथ की नसों को काटकर आत्महत्या करने की कोशिश की होगी, सफल न होने पर फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। यह पूरी घटना रविवार रात हुई है। क्योंकि डॉक्टर और उनके परिवार को दो दिनों से किसी ने बाहर नहीं देखा। घर का दरवाजा बंद होने के कारण किसी बाहरी व्यक्ति के आने की आशंका भी नहीं लग रही। सभी के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया है।

फॉरेंसिक टीमों ने घटना स्थल से जुटाए साक्ष्य: आईजी
आईजी रेंज लखनऊ तरुण गाबा भी घटना स्थल पर पहुंचे। उन्होंने पड़ोसियों से भी घटना के बारे में बातचीत की। आईजी रेंज तरुण गाबा ने बताया कि रायबरेली जिले की यह घटना दुर्भाग्यपूर्ण है। सभी के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया है। फॉरेंसिक टीमों ने भी घटना स्थल से अहम साक्ष्य जुटाए हैं। पड़ोसियों, सहकर्मियों और परिजनों से भी पूछताछ की जा रही है।

  • Share

ताजा खबरें

वीडियो