Fri, Jun 21, 2024

UP Crime News: जौनपुर में 10 रुपये मांगने पर पिता बना जल्लाद, गला घोंटकर की 10 साल की बेटी की हत्या, आरोपी अरेस्ट

By  Deepak Kumar -- December 5th 2023 01:24 PM
UP Crime News: जौनपुर में 10 रुपये मांगने पर पिता बना जल्लाद, गला घोंटकर की 10 साल की बेटी की हत्या, आरोपी अरेस्ट

UP Crime News: जौनपुर में 10 रुपये मांगने पर पिता बना जल्लाद, गला घोंटकर की 10 साल की बेटी की हत्या, आरोपी अरेस्ट (Photo Credit: File)

जौनपुर/ लखनऊ/ जय कृष्णाः जौनपुर जिले में 10 वर्षीय रागिनी सोनकर की हत्या का पुलिस ने सनसनी खेज खुलासा किया है। पुलिस के मुताबिक 10 रुपए मांगने पर पिता ने ही अपनी मासूम बेटी को मौत के घाट उतार दिया। पुलिस ने आरोपी पिता को गिरफ्तार कर लिया है। 30 नवंबर की देर रात रागिनी का आधा जला हुआ शव खेत में मिला था। वह अपने पिता रिंकू और मां मधु के साथ ननिहाल में शादी समारोह में शामिल होने आई थी।

जानकारी के मुताबिक जौनपुर जिले के सराय ख्वाजा थानाक्षेत्र के खानपुर अकबरपुर गांव में अपनी मौसी की शादी समारोह में शामिल होने आजमगढ़ से आई 10 वर्षीय रागिनी सोनकर का जला हुआ शव 30 नवंबर की रात में मिलने से सनसनी फैल गई थी। इस घटना के बाद एसपी ग्रामीण शैलेंद्र सिंह भी मौके पर पहुंचे थे। साथ ही फॉरेंसिक टीम ने भी साक्ष्य जुटाए थे। इस मामले में शक के आधार पर पुलिस ने रागिनी के पिता को हिरासत में लिया था, जो उस रात भी नशे में था। कड़ाई से पूछताछ के बाद आरोपी ने अपना जुर्म कबूल कर लिया है।ृ

मासूम की जिद बनी हत्या का कारण

इस मामले का खुलासा करते हुए एसपी ग्रामीण शैलेन्द्र सिंह बताया कि आजमगढ़ के सिधारी थाना क्षेत्र के नरौली निवासी रिंकू सोनकर मजदूरी करके अपने और अपने परिवार का पेट पालता है। वह शराब का लती है, हमेशा नशे में रहता है। वह सराय ख्वाजा थाना क्षेत्र के खानपुर अकबरपुर गांव में 30 नवंबर 2023 को अपने ससुराल शादी में आया था। यहां रिश्तेदारों के बीच उसकी दस साल की बेटी रागिनी उससे 10 रुपए देने की जिद कर रही थी। बार-बार वह उसे डांट कर भगा दे रहा था, लेकिन बाल मन बार-बार यह जिद कर रहा था, जिससे नशे में धुत रिंकू ने खौफनाक कदम उठा लिया।

महसूस हुई बेइज्जती, सिर्फ घर जाने के बचे थे पैसे 

पुलिस को दिए बयान में रिंकू ने बताया कि वह मजदूरी करता है, और मुश्किल से परिवार का गुजारा करता है। ससुराल की शादी में आने के बाद उसके पास बस उतने ही पैसे बचे थे, जिससे वह वापस आजमगढ़ लौट सकता था। ऐसे में जब रिश्तेदारों के बीच बार-बार रागिनी आकर दस रुपए मांगने लगी तो उसे बेइज्जती महसूस हुई और उसने जयमाल के बाद वह रागिनी को पैसा देने के बहाने घर के पास एक छप्पर में ले गया और शॉल से उसका गला दबा दिया। कसी को शक न हो इसलिए शव जलाकर खाली पड़े प्लाट में फेंक दिया था।

पूछताछ में बताया सचः थाना प्रभारी

थाना प्रभारी निरीक्षक सतीश सिंह ने बताया कि रिंकू सिंह पहले अपने बयानों को बदलता रहा, जिसपर हमें शक हुआ तो कड़ाई से पूछताछ की तो उसने सरे राज उगल दिया। जिसे सुनकर हर कोई आवक रह गया। उसकी निशानदेही पर घटना में प्रयुक्त शॉल और शर्ट, जो घटना के समय रिंकू पहने था। उसे बरामद कर लिया गया है। फिलहाल उसे संबंधित धाराओं में जेल भेज दिया गया है।

  • Share

ताजा खबरें

वीडियो