Wed, Apr 24, 2024

बेटियों ने फिर रचा इतिहास! आगरा की दिव्या सिकरवार ने किया टॉप, योगी सरकार ने बनाया रिकॉर्ड

By  Shagun Kochhar -- April 8th 2023 01:33 PM
बेटियों ने फिर रचा इतिहास! आगरा की दिव्या सिकरवार ने किया टॉप, योगी सरकार ने बनाया रिकॉर्ड

बेटियों ने फिर रचा इतिहास! आगरा की दिव्या सिकरवार ने किया टॉप, योगी सरकार ने बनाया रिकॉर्ड (Photo Credit: File)

लखनऊ: यूपीपीएससी ने शुक्रवार को 2022 की परीक्षा का परिणाम घोषित किया और इस परिणाम ने फिर साबित कर दिया कि बेटियां बेटों से कम नहीं होती। वहीं यूपी के युवाओं ने अपना दमखम दिखाते हुए अभूतपूर्व सफलता हासिल की। कुल सफल 364 अभ्यर्थियों में यूपी के 67 जिलों से कुल 334 युवाओं ने सफलता प्राप्त करके अपने जिले का और अपने परिवार का गौरव बढ़ाया।


आगरा की दिव्य सिकरवार को मिला पहला स्थान

कुल सफल 364 अभ्यर्थियों में यूपी के 67 जिलों से कुल 334 युवाओं ने सफलता प्राप्त करके अपने जिले का और अपने परिवार का गौरव बढ़ाया। शेष 30 अभ्यर्थी अन्य राज्यों से ताल्लुक रखते हैं। मुख्य परीक्षा में कुल 1071 अभ्यर्थी सम्मिलित हुए थे। परीक्षा में आगरा की दिव्य सिकरवार ने पहला, लखनऊ की प्रतीक्षा पांडे ने दूसरा और बुलंदशहर की नम्रता सिंह ने तीसरा स्थान हासिल किया। 


लखनऊ से सबसे ज्यादा 40 अभ्यर्थी हुए सफल

यूपीपीएससी के प्रभारी सचिव विनोद कुमार गौड़ ने कहा कि चयन प्रक्रिया गुणधर्मिता, शुचिता, पारदर्शिता और समयबद्धता से पूर्ण कर 10 महीने में इसका परिणाम घोषित किया है। यह एक कीर्तिमान है और पहली बार यूपीपीएससी ने यूपीएससी के प्रतिमान को लांघकर उपलब्धि हासिल की है। यूपी से सबसे ज्यादा 40 अभ्यर्थी लखनऊ से सफल हुए हैं, जबकि प्रयागराज से 29 अभ्यर्थियों ने सफलता प्राप्त की है। कानपुर शहर से भी 15 अभ्यर्थी चयनित हुए हैं। कुल 67 जिलों से अभ्यर्थियों ने परीक्षा में सफलता प्राप्त की है। 


टॉप-10 में 8 बेटियां शामिल 

विनोद कुमार गौड़ ने बताया कि हमारी बेटियां हमारा गौरव, यह सिद्धांत इस चयन प्रक्रिया से सिद्ध हुआ है। परिणामों में बेटियों ने बड़ी उपलब्धि हासिल की है। कुल चयनित 364 अभ्यर्थियों में 110 बेटियां शामिल हैं जो लगभग 33 प्रतिशत है। खास बात ये है कि टॉप-3 में तीनों ही बेटियां हैं और तीनों ही उत्तर प्रदेश से हैं। वहीं टॉप-10 में 8 बेटियों ने सुनहरे भविष्य का निर्माण कर राष्ट्र के प्रति अपना समर्पण जाहिर किया है। वहीं टॉप-20 में 12 बेटियों ने सफलता हासिल की है। चयनित 39 एसडीएम में 19 महिलाएं हैं। डिप्टी एसपी के लिए 26 महिलाएं सम्मिलित हैं। 


सीएम योगी ने दी बधाई 

यूपीपीएससी के पीसीएस 2022 के परिणामों के जारी होने के बाद सीएम योगी आदित्यनाथ ने सफल अभ्यर्थियों के साथ ही यूपीपीएससी को रिकॉर्ड 10 माह में परिणाम जारी करने और यूपी की बेटियों को अच्छे प्रदर्शन के लिए बधाई दी। उन्होंने ट्वीट कर कहा कि यूपीपीएससी द्वारा रिकॉर्ड 10 माह में पारदर्शी व निष्पक्ष तरीके से संपन्न हुई सम्मिलित राज्य/प्रवर अधीनस्थ सेवा परीक्षा 2022 में सफल सभी अभ्यर्थियों को बधाई। इस परीक्षा में प्रदेश की बेटियों की रिकॉर्ड सफलता एवं लगभग हर जनपद का प्रतिनिधित्व नए उत्तर प्रदेश की नई तस्वीर है।


योगी सरकार ने बनाया रिकॉर्ड

उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग (यूपीपीएससी) ने प्रतिष्ठित राज्य प्रशासनिक सेवा (पीसीएस) की चयन प्रक्रिया मात्र 10 महीने में पारदर्शी और निष्पक्ष तरीके से पूर्ण कर रिकॉर्ड बनाया है।


  • Share

ताजा खबरें

वीडियो