Fri, Jun 21, 2024

UP IT and Electronics Dept: यूपी आईटी और इलेक्ट्रॉनिक्स विभाग नवाचार को बढ़ावा देने के लिए युवा उद्यमियों को निवेशक उपलब्ध करा रहा है

By  Bhanu Prakash -- March 22nd 2023 12:29 PM
UP IT and Electronics Dept: यूपी आईटी और इलेक्ट्रॉनिक्स विभाग नवाचार को बढ़ावा देने के लिए युवा उद्यमियों को निवेशक उपलब्ध करा रहा है

UP IT and Electronics Dept: यूपी आईटी और इलेक्ट्रॉनिक्स विभाग नवाचार को बढ़ावा देने के लिए युवा उद्यमियों को निवेशक उपलब्ध करा रहा है (Photo Credit: File)

लखनऊ (उत्तर प्रदेश): उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ राज्य को इनोवेशन का हब बनाने की पूरी कोशिश कर रहे हैं और इस मुकाम को हासिल करने के लिए वे युवा उद्यमियों को निवेशक मुहैया करा रहे हैं। सीएम के निर्देश पर यूपी आईटी और इलेक्ट्रॉनिक्स विभाग युवाओं को उनके लिए निवेशकों की व्यवस्था कर नए नवाचारों के लिए प्रेरित कर रहा है, इसकी जानकारी सरकार ने एक विज्ञप्ति के माध्यम से दी

विभाग द्वारा उन्हें आर्थिक सहायता के साथ-साथ अन्य रियायतें भी उपलब्ध कराई जा रही हैं।

राज्य के उद्यमियों को निवेशक उपलब्ध कराने के लिए विभाग प्रदेश के विभिन्न जिलों में सेमिनार आयोजित कर रहा है इसके लिए पहले चरण के लिए बरेली, कानपुर और लखनऊ को चुना गया है।

इसकी सबसे बड़ी विशेषता यह है कि उद्यमियों को उनके जिले में ही निवेशकों को उपलब्ध कराया जा रहा है, ताकि उन्हें अपने स्टार्टअप के लिए दिल्ली, हैदराबाद या बंगलौर का रुख न करना पड़े। इसमें विभाग को काफी सफलता भी मिल रही है।

यूपी आईटी और इलेक्ट्रॉनिक्स के विशेष सचिव अक्षय त्रिपाठी ने कहा कि राज्य के युवाओं को अपना उद्यम स्थापित करने के लिए दूसरे राज्यों में नहीं भटकना पड़े, इसके लिए सिटीजन एंगेजमेंट पार्टनर प्रोग्राम पर काम किया जा रहा है स्टार्टअप स्थापित करने वाले युवाओं को विभिन्न जिलों में गोष्ठियों और बैठकों के माध्यम से निजी निवेशकों से संवाद स्थापित करने के लिए प्रोत्साहित किया जा रहा है।

विभाग के इस लक्ष्य को पूरा करने के लिए विभाग ने "पापस्वैप-पॉलिसीज ओवर पॉलिटिक्स" स्टार्टअप के संस्थापक दिव्यांशु शुक्ला के साथ साझेदारी की है। सरकार की नीतियों का लाभ जमीनी स्तर पर आम आदमी तक पहुंचाने के लिए यह स्टार्टअप योगी सरकार के साथ मिलकर काम कर रहा है।

पापस्वैप ने हाल ही में उत्तर प्रदेश के आईटी और इलेक्ट्रॉनिक्स विभाग के साथ "पॉलिसी एंगेजमेंट पार्टनर" के रूप में समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किए। इसका मुख्य उद्देश्य स्टार्टअप उद्यमियों के लिए नवाचार के नए द्वार खोलना है। साथ ही उन्हें स्थानीय स्तर पर सभी प्रकार के संसाधन उपलब्ध कराने में सहायता करनी है। पापस्वैप उद्यमियों को संभावित निवेशकों, उद्योगपतियों से जुड़ने, उनके उद्योगों में नवीनतम रुझानों के साथ-साथ नए व्यावसायिक अवसरों के बारे में जानने के लिए एक मंच प्रदान कर रहा है। ये सेमिनार उद्यमियों को साथियों और सलाहकारों का एक मजबूत नेटवर्क बनाने में भी मदद कर रहे हैं, जो उनके विकास और सफलता के लिए अमूल्य हो सकता है।

15 मार्च को रोहिलखंड इन्क्यूबेशन फाउंडेशन (आरआईएफ) बरेली में कार्यशाला की सफलता के बाद 23 मार्च को आईआईटी कानपुर में भी कार्यशाला आयोजित की जा रही है। इसके बाद एकेटीयू लखनऊ में कार्यशाला आयोजित की जाएगी।

  • Share

ताजा खबरें

वीडियो