Tue, May 21, 2024

UP: महाकुंभ-2025: प्रयागराज में हेरिटेज होटल के रूप में विकसित किये जा रहे धराेहर

By  Rahul Rana -- April 26th 2024 11:45 AM
UP: महाकुंभ-2025: प्रयागराज में हेरिटेज होटल के रूप में विकसित किये जा रहे धराेहर

UP: महाकुंभ-2025: प्रयागराज में हेरिटेज होटल के रूप में विकसित किये जा रहे धराेहर (Photo Credit: File)

ब्यूरो:  कुंभ नगरी प्रयागराज में महाकुंभ को योगी सरकार भव्य, दिव्य और नव्य  स्वरूप प्रदान करने के लिए सतत प्रयास कर रही है। योगी सरकार महाकुंभ में आने वाले 41 करोड़ से अधिक श्रद्धालुओं और पर्यटकों के ठहरने के लिए विश्व स्तरीय सुविधाओं की व्यवस्था कर रही है। इसके लिये जहां कुंभ क्षेत्र में इनके ठहरने की व्यवस्था की जा रही है, तो वहीं पांच सितारा होटल भी बन रहे हैं। इसके साथ ही पर्यटकों को अलग अनुभव देने के लिए हेरिटेज होटल की भी सुविधा उपलब्ध करायी जाएगी। 

प्रयागराज में 'हेरिटेज होटल योजना' पर कार्य शुरू

प्रयागराज महाकुंभ में पहुंचने वाले पर्यटकों को कुछ अलग अनुभव प्रदान करने के लिए पर्यटन विभाग हेरिटेज होटल विकसित कर रहा है। क्षेत्रीय पर्यटन अधिकारी अपराजिता सिंह बताती हैं कि जिले में दो धरोहरों को हेरिटेज होटल में तब्दील करने का प्रस्ताव आया है, जिस पर अंतिम स्वीकृति हो चुकी है। पर्यटन विभाग के पास जिले के सोरांव में सोरांव प्लांटर्स और ममफोर्ड गंज में शगुन निलयम की तरफ से उनकी धरोहर को हेरिटेज होटल के रूप में विकसित करने का प्रस्ताव आया है, जिस पर सैद्धांतिक सहमति बन चुकी है। शगुन निलयम के दस रूम और सोरांव प्लांटर्स का 200 एकड़ का क्षेत्रफल हेरिटेज होटल के तौर पर विकसित करने का प्रस्ताव आया था, जिस पर कार्य चल रहा है। इसके अलावा महाकुंभ के पहले कई निजी धरोहरों को हेरिटेज होटल्स में विकसित करने की कार्य योजना पर काम चल रहा है। 

महाकुंभ के पहले दो पांच सितारा होटल होंगे तैयार

महाकुंभ में आने वाले विदेशी पर्यटकों को ठहरने के लिए विश्व स्तरीय सुविधाएं प्रदान करने के लिए दो पांच सितारा होटल भी बनाए जा रहे हैं। क्षेत्रीय पर्यटन अधिकारी के अनुसार विदेशी पर्यटकों के प्रयागराज में आमतौर पर रात्रि में न ठहरने की प्रमुख वजह यहां पांच सितारा होटल की व्यवस्था न होना है। ऐसे में वह आमतौर पर संगम दर्शन व स्नान कर सीधे वाराणसी चले जाते हैं। इसके देखते हुए योगी सरकार फाइव स्टार होटल को विकसित करने पर काम कर रही है। उनके मुताबिक पिछले दिनों दो बड़ी कंपनियों काे प्रयागराज में होटल खोलने की सहमति दी गई है, जिसमें ताज और रेडिसन होटल शामिल हैं। शहर के मंफोर्ड गंज में ताज होटल और वाईएमसीए कॉलेज के पास रेडिसन ग्रुप की तरफ से इन्हे बनाया जाएगा। पर्यटन विभाग के पोर्टल में इन्होंने इसके लिए आवेदन किया था, जिसके बाद जगह का निरीक्षण करने के बाद इन्हे सर्टिफिकेट दे दिया गया है। शहर में निजी क्षेत्र द्वारा नए फाइव स्टार होटल खोलने के साथ ही पर्यटन विभाग अपने होटलों का कायाकल्प भी कर रहा है। होटल राही इलावर्त और होटल राही त्रिवेणी दर्शन का 907.08 लाख से सौंदर्यीकरण के साथ विस्तारीकरण किया जा रहा है।

  • Share

ताजा खबरें

वीडियो