Sat, May 25, 2024

उत्तर प्रदेश: बिजली संकट के बीच अखिलेश यादव ने किया 'बिजली-व्रत' का ऐलान

By  Shivesh jha -- March 20th 2023 10:25 AM
उत्तर प्रदेश: बिजली संकट के बीच अखिलेश यादव ने किया 'बिजली-व्रत' का ऐलान

उत्तर प्रदेश: बिजली संकट के बीच अखिलेश यादव ने किया 'बिजली-व्रत' का ऐलान (Photo Credit: File)

उत्तर प्रदेश में बिजली विभाग के कर्मचारियों की राज्यव्यापी हड़ताल के बीच समाजवादी पार्टी ने रविवार को बिजली संकट से जूझ रही जनता का समर्थन करने के लिए 'बिजली-व्रत' की घोषणा की। 

पार्टी प्रमुख अखिलेश यादव ने ट्वीट कर सपा नेताओं से अपील की है कि जब तक बिजली संकट का समाधान नहीं हो जाता तब तक जेनरेटर जैसे वैकल्पिक बिजली स्रोतों के इस्तेमाल से बचें। हालांकि बिजली कर्मियों ने रविवार को बातचीत के बाद हड़ताल समाप्त कर दिया।

उन्होंने कहा कि जिस तरह से उत्तर प्रदेश के लोग बिजली संकट का सामना कर रहे हैं, उसे देखते हुए, हम अपील करते हैं कि सपा नेता, कार्यकर्ता और शुभचिंतक बिजली बहाल होने तक इनवर्टर या जनरेटर जैसे बिजली के वैकल्पिक स्रोतों का व्यक्तिगत उपयोग न करें। सपा 'बिजली-व्रत' करेगी और जनता का समर्थन करेगी।

यादव का ट्वीट पूरे उत्तर प्रदेश में बिजली विभाग के कर्मचारियों के एक वर्ग के नेतृत्व में चल रहे आंदोलन के जवाब में था, जो शुक्रवार से हड़ताल पर थे। समाचार एजेंसी पीटीआई ने बताया कि हड़ताल के कारण विभिन्न क्षेत्रों में बिजली आपूर्ति बाधित हुई है।

बता दें कि पिछले साल तय किए गए 3 दिसंबर के समझौते को लागू करने की मांग को लेकर कर्मचारियों ने 72 घंटे की हड़ताल का प्रस्ताव दिया था। कर्मचारियों का आरोप है कि उत्तर प्रदेश पावर कारपोरेशन लिमिटेड प्रबंधन के साथ हुए समझौते में वेतन विसंगतियों और बिजली सब-स्टेशनों के संचालन और रखरखाव की आउटसोर्सिंग से संबंधित मांगों को राज्य सरकार ने स्वीकार नहीं किया है।

उत्तर प्रदेश के ऊर्जा मंत्री एके शर्मा ने शनिवार को कर्मचारियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की चेतावनी दी थी, लेकिन उन्होंने कहा कि सरकार बातचीत के जरिए विरोध खत्म करने का प्रयास कर रही है। इस बीच, यूपी कांग्रेस ने भी शनिवार को विरोध प्रदर्शन किया, जिसमें सत्तारूढ़ भारतीय जनता पार्टी की अगुवाई वाली सरकार को जनविरोधी करार दिया था।

  • Share

ताजा खबरें

वीडियो