Advertisment

10 महीने में PCS चयन प्रक्रिया पूरी कर UPPSC ने बनाया रिकॉर्ड

उत्तर प्रदेश की योगी सरकार के नाम एक और कीर्तिमान जुड़ गया है। दरअसल उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग ने महज़ 10 महीने में पीसीएस चयन प्रक्रिया को सफ़लतापूर्वक मुक़म्मल कर एक नया रिकॉर्ड बना दिया है। तेज़ गति से हुए सेलेक्शन प्रोसेस की ना केवल प्रतिभागी तारीफ़ कर रहे हैं, बल्कि दूसरे राज्यों की सरकारें भी इस क़दम को प्रेरणास्त्रोत बता रही हैं।

author-image
Mohd. Zuber Khan
Updated On
New Update
10 महीने में PCS चयन प्रक्रिया पूरी कर UPPSC ने बनाया रिकॉर्ड

लखनऊ: उत्तर प्रदेश की योगी सरकार के नाम एक और कीर्तिमान जुड़ गया है। दरअसल उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग ने महज़ 10 महीने में पीसीएस चयन प्रक्रिया को सफ़लतापूर्वक मुक़म्मल कर एक नया रिकॉर्ड बना दिया है। तेज़ गति से हुए सेलेक्शन प्रोसेस की ना केवल प्रतिभागी तारीफ़ कर रहे हैं, बल्कि दूसरे राज्यों की सरकारें भी इस क़दम को प्रेरणास्त्रोत बता रही हैं।

Advertisment

आपको बता दें कि ताजनगरी आगरा की दिव्या सिकरवार ने इस परीक्षा में पहला स्थान हांसिल किया है, जबकि लखनऊ की प्रतीक्षा पांडे ने दूसरा और बुलंदशहर की नम्रता सिंह ने तीसरा स्थान हांसिल किया है। तमाम सफल अभ्यर्थियों और यूपीपीएससी को सीएम योगी ने बधाई और शुभकामनाएं दी हैं।

ये भी पढ़ें:- अफ्रीका में सराहा जा दिल्ली का 'स्कूल मॉडल', भारत और नाइजीरिया के बीच होगा 'एजुकेशन एग्रीमेंट'

गौरतलब है कि यूपीपीएससी की पीसीएस परीक्षा 2022 में कुल 364 अभ्यर्थी कामयाब हुए हैं, जिनमें 110 बेटियों ने बाज़ी मारी है। उत्तर प्रदेश के 67 ज़िलों से कुल 334 उम्मीदवारों ने इस परीक्षा में सफलता हांसिल कर अपने परिवार का नाम रोशन किया है। बाक़ी 30 आवेदक राज्यों से ताल्लुक रखते हैं। वैसे मुख्य परीक्षा में कुल-मिलाकर 1071 अभ्यर्थी शामिल हुए थे।

Advertisment

राजधानी लखनऊ से सबसे ज़्यादा उम्मीदवार हुए सफल

यूपीपीएससी के प्रभारी सचिव विनोद कुमार गौड़ ने कहा कि चयन प्रक्रिया गुणधर्मिता, शुचिता, पारदर्शिता और समयबद्धता से पूरी कर 10 महीने में इसका परिणाम घोषित किया है। यह एक कीर्तिमान है और पहली बार यूपीपीएससी ने यूपीएससी के प्रतिमान को लांघकर ये उपलब्धि हांसिल की है। यूपी से सबसे ज्यादा 40 अभ्यर्थी लखनऊ से सफल हुए हैं, जबकि प्रयागराज से 29 अभ्यर्थियों ने कामयाबी प्राप्त की है। कानपुर शहर से भी 15 आवेदकर चयनित हुए हैं। 

टॉप-10 में  यूपी की 8 बेटियों ने गाड़े झंडे 

Advertisment

हमारी बेटियां-हमारा गौरव, यह सिद्धांत इस चयन प्रक्रिया से साबित हो चुका है। नतीजों में बेटियों ने बड़ी उपलब्धि हांसिल की हैं। कुल चयनित 364 अभ्यर्थियों में 110 बेटियां शामिल हैं जो लगभग 33 प्रतिशत है। खास बात ये है कि टॉप-3 में तीनों ही बेटियां हैं और तीनों ही उत्तर प्रदेश से हैं। वहीं टॉप-10 में 8 बेटियों ने सुनहरे भविष्य का निर्माण कर राष्ट्र के प्रति अपना समर्पण ज़ाहिर किया है। वहीं टॉप-20 में 12 बेटियों ने कामयाबी का मक़ाम हासिल किया है। चयनित 39 एसडीएम में 19 महिलाएं हैं। डिप्टी एसपी के लिए 26 महिलाएं शामिल हैं। 

सीएम योगी ने दी बधाई 

यूपीपीएससी के पीसीएस 2022 के परिणामों के जारी होने के बाद सीएम योगी आदित्यनाथ ने सफल अभ्यर्थियों के साथ ही यूपीपीएससी को रिकॉर्ड 10 माह में परिणाम जारी करने और यूपी की बेटियों को अच्छे प्रदर्शन के लिए बधाई दी। उन्होंने ट्वीट कर कहा कि यूपीपीएससी द्वारा रिकॉर्ड 10 माह में पारदर्शी व निष्पक्ष तरीके से संपन्न हुई सम्मिलित राज्य/प्रवर अधीनस्थ सेवा परीक्षा 2022 में सफल सभी अभ्यर्थियों को बधाई। इस परीक्षा में प्रदेश की बेटियों की रिकॉर्ड सफलता एवं लगभग हर जनपद का प्रतिनिधित्व नए उत्तर प्रदेश की नई तस्वीर है।

-PTC NEWS
news up-news uppsc uppsc-result-2023 uppsc-topper-list list-of-uppsc-topper
Advertisment