Sat, May 25, 2024

राम मंदिर के लिए नेपाल से लाई गई दिव्य शालिग्राम शिला, रोटी-बेटी का रिश्ता होगा मज़बूत

By  Mohd. Zuber Khan -- February 2nd 2023 02:16 PM
राम मंदिर के लिए नेपाल से लाई गई दिव्य शालिग्राम शिला, रोटी-बेटी का रिश्ता होगा मज़बूत

राम मंदिर के लिए नेपाल से लाई गई दिव्य शालिग्राम शिला, रोटी-बेटी का रिश्ता होगा मज़बूत (Photo Credit: File)

अयोध्या: नेपाल के प्रसिद्ध धार्मिक स्थल जनकपुर से अयोध्या लाई गई देवशिला का पूजन हुआ। नेपाल के पूर्व उप प्रधानमंत्री जानकी मंदिर के महंत ने पूजन किया। वैदिक रीति रिवाज़ से पूजन के बाद,  शालिग्राम शिला श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट को सौंपी गई। 

इससे पहले, नेपाल के जनकपुर से चलकर शालिग्राम शिला बुधवार की देर रात रामनगरी पहुंची। भगवान विष्णु का स्वरूप मानी जाने वाली इस शिला का रामनगरी में भव्य अभिनंदन किया गया। हाईवे से जैसे ही देर रात शालिग्राम यात्रा ने प्रवेश किया, तो जय श्री राम के नारे गूंजने लगे। लोगों ने पुष्प वर्षा की तो जमकर आतिशबाज़ी भी हुई। अयोध्या पहुंचने पर शालिग्राम शिला पर श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के महासचिव चंपत राय, ट्रस्टी डॉक्टर अनिल मिश्र, निवर्तमान महापौर ऋषिकेश उपाध्याय सहित अन्य भाजपा नेताओं ने पुष्प वर्षा कर स्वागत किया।

इसके बाद सैकड़ों गाड़ियों के काफिले के साथ शालिग्राम यात्रा रामसेवक पुरम कार्यशाला पहुंची। यहां श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के कोषाध्यक्ष गोविंद देव गिरी और महंत दिनेंद्र दास ने शालिग्राम शिला पर पुष्प वर्षा कर स्वागत किया।

ये भी पढ़ें:-  सीएम योगी ने बताया सनातन धर्म को भारत का राष्ट्रीय धर्म, जयंत चौधरी ने किया ज़बरदस्त पलटवार

भारी सुरक्षा व्यवस्था के बीच क्रेन के माध्यम से शिला को रामसेवक पुरम में गाड़ी से उतार कर रखा गया। वैदिक आचार्यों के निर्देशन में शालिग्राम की आरती भी उतारी गई।

गौरतलब है कि नेपाल की पवित्र काली गंडकी नदी से ये पत्थर निकाले गए हैं। वहां अभिषेक और विधि-विधान से पूजा-अर्चना के बाद शिला को 26 जनवरी को अयोध्या के लिए रवाना किया गया था। ये यात्रा बिहार के रास्ते यूपी में कुशीनगर और गोरखपुर होते हुए बुधवार को अयोध्या पहुंची।

-PTC NEWS

  • Share

ताजा खबरें

वीडियो