Sat, May 25, 2024

RSS ने की ‘भारत जोड़ो यात्रा’ की हिमायत! बीजेपी खेमे ने साधी चुप्पी!

By  Mohd. Zuber Khan -- January 4th 2023 12:20 PM
RSS ने की ‘भारत जोड़ो यात्रा’ की हिमायत! बीजेपी खेमे ने साधी चुप्पी!

RSS ने की ‘भारत जोड़ो यात्रा’ की हिमायत! बीजेपी खेमे ने साधी चुप्पी! (Photo Credit: File)

लखनऊ: राम जन्मभूमि मंदिर के मुख्य पुजारी आचार्य सत्येंद्र दास द्वारा उत्तर प्रदेश में शुरू हुई ‘भारत जोड़ो यात्रा’ के लिए राहुल गांधी को आशीर्वाद देने के एक दिन बाद राम मंदिर न्यास के सचिव चंपत राय ने भी यात्रा की सराहना की है। फैज़ाबाद सर्किट हाउस में न्यास की बैठक में शामिल होने के बाद ‘भारत जोड़ो यात्रा’ पर पत्रकारों के सवालों का जवाब देते हुए चंपत राय ने कहा, ''देश में पैदल चल रहे एक युवक का मैं आभार व्यक्त करता हूं, मैं उसके इस क़दम की सराहना करता हूं।''

चंपत राय ने कहा, "इसमें कुछ भी ग़लत नहीं है, मैं आरएसएस का कार्यकर्ता हूं और आरएसएस कभी भी ‘भारत जोड़ो यात्रा’ की निंदा नहीं करता, वह (राहुल गांधी) इस ख़राब मौसम में चल रहा है, इसकी सराहना की जानी चाहिए, मुझे कहना होगा कि हर किसी को देश की यात्रा करनी चाहिए।"

राम मंदिर न्यास के एक अन्य वरिष्ठ न्यासी गोविंद देव गिरि ने भी राहुल गांधी की ‘भारत जोड़ो यात्रा’ की सराहना करते हुए कहा, 'मैं भगवान राम से प्रार्थना करता हूं कि वह उन्हें आशीर्वाद दें ताकि राष्ट्र एकजुट, मज़बूत और सामंजस्यपूर्ण बना रहे, भारत जोड़ो अच्छा नारा है और भारत को एकजुट होना चाहिए।'

ये भी पढे़ं:- तो क्या 'भारत जोड़ो यात्रा' के पक्ष में आ गई है राष्ट्रीय लोकदल?

उल्लेखनीय है कि उत्तर प्रदेश में कांग्रेस की 'भारत जोड़ो यात्रा' शुरू होने से एक दिन पहले अयोध्या में राम जन्मभूमि मंदिर के मुख्य पुजारी ने यात्रा की सफलता के लिए राहुल गांधी पर भगवान श्रीराम के आशीर्वाद की कामना की।

आपको बता दें कि राम जन्मभूमि मंदिर के मुख्य पुजारी आचार्य सत्येंद्र दास ने भी गांधी को भेजे एक पत्र में राहुल की 'भारत जोड़ो यात्रा' के माध्यम से देश को एकजुट करने के क़दम के लिए अपना समर्थन दिया। दास ने गांधी को लिखा, 'मैं आशा करता हूं और प्रार्थना करता हूं कि जिस मिशन के लिए आप लड़ रहे हैं, वह सफल हो, मैं आपको आपके लंबे जीवन का आशीर्वाद देता हूं।'

गौरतलब है कि राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा सात सितंबर 2022 को तमिलनाडु के कन्याकुमारी से शुरू हुई और अब तक 10 राज्यों से गुज़रते हुए इस महीने कश्मीर में ख़त्म होगी। 

-PTC NEWS

  • Share

ताजा खबरें

वीडियो